स्वास्थ्य

हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट में हाईटेक एऩआईसीयू जल्द होगा तैयार

कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने किया एनआईसीयू का निरीक्षण

 

👉 में अस्पताल में 30 बिस्तरों का एनआईसीयू

डोईवाला, 17 दिसंबर। हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट में हाईटेक नवजात गहन चिकित्सा इकाई (एनआईसीयू) जल्द ही जनता को समर्पित किया जाएगा। कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने एनआईसीयू का निरीक्षण किया। वर्तमान में हिमालयन अस्पताल में 30 बिस्तरों का एनआईसीयू है।
गुरुवार को हिमालनय अस्पताल में एनआईसीयू वॉर्ड का निरीक्षण के दौरान कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने कहा कि आम जनता को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की गुणवत्तापरक स्वास्थ्य सेवा देने को हम प्रतिबद्ध हैं। इसी कड़ी में हिमालयन अस्तपाल जौलीग्रांट में अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरुप हाईटेक लेवल-3 एनआईसीयू तैयार किया जा रहा है। जल्द ही वो काम करना शुरू कर देगा।
हिमालयन अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ.एसएल जेठानी ने कहा कि मरीजों को स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए सेवाओं में लगातार इजाफा किया जा रहा है। हाल ही में पैट सीटी स्कैन व एआरटी सेंटर की स्थापना की गई है। पैट-सीटी स्कैन की सुविधा देना वाल हिमालयन अस्पताल राज्य का पहला व एकमात्र अस्पताल है।
डीन डॉ.मुश्ताक अहमद ने बताया कि इस विभाग के अधीन फैलोशिप की भी शुरुआत की गई है। इससे उत्तराखंड में नवजात शिशुओं की चिकित्सा के लिए प्रशिक्षित विशेषज्ञ मिलेंगे।
एनआईसीयू विभागाध्यक्ष डॉ.गिरीश गुप्ता ने बताया कि वर्तमान में हिमालयन अस्पताल में 30 बिस्तरों के एनआईसीयू के माध्यम से हम सेवा दे रहे हैं। हमारा लक्ष्य उत्तराखंड में नवजात शिशुओं की मृत्यु दर को कम करना है।
इस दौरान डॉ.बीपी कालरा, डॉ.सनोबर वसीम, डॉ.राकेश कुमार, डॉ.नितिका अग्रवाल मौजूद रहे।

Related Articles

Close