भ्रष्टाचार

दशमोत्तर छात्रवृति घोटालाः पूर्व समाज कल्याण अधिकारी गिरफ्तार

काशीपुर। दशमोत्तर छात्रवृति घोटाले में ऊधमसिंह नगर पुलिस ने देहरादून में तैनात जिले के पूर्व समाज कल्याण अधिकारी अनुराग शंखधर को गिरफ्तार किया है। पुलिस अब से थोड़ी देर में अनुराग शंखधर को कोर्ट में पेश करेगी. वर्ष 2011-12 में दशमोत्तर छात्रवृति में अनियमितता मिलने पर जांच के लिए एसआइटी गठित की गई थी। पहले चरण की जांच में बाहरी राज्यों के कॉलेज और छात्रों से पूछताछ की गई थी। इस दौरान मिले साक्ष्य के आधार पर उधमसिंह नगर में 60 केस दर्ज कर 26 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। साथ ही इस घोटाले में 2011 से 2019 तक जिला समाज कल्याण विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों की भी मिलीभगत सामने आई थी। हालांकि, फिलहाल दूसरे चरण की जांच में जिले के कॉलेज और उनमें अध्ययनरत छात्रों से पूछताछ में एसआईटी टीम जुटी है। घोटाले में मिले सुबूत के आधार पर शनिवार की काशीपुर पुलिस ने देहरादून से अनुराग शंखघर को गिरफ्तार किया है। आरोपी फिलहाल देहरादून में तैनात हैं। एएसपी राजेश भट्ट ने बताया कि जसपुर, काशीपुर, बाजपुर, आईटीआई थाना और केलाखेड़ा में मुकदमे दर्ज हैं। जिनमें से अनेक मुकदमे पीसी एक्ट में परिवर्तित हो चुके हैं। मामले में पूर्व जिला समाज कल्याण अधिकारी अनुराग शंखधर को देहरादून में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले में अन्य आरोपियों के खिलाफ भी साक्ष्य जुटाए गए हैं। जल्दी ही अन्य आरोपियों की भी गिरफ्तारी कर ली जाएगी। इस मामले में क्षेत्र में 49 मुकदमें दर्ज हैं. इनमें से कुछ आरोपी वही हैं, जो अधिकतर मुकदमों में वांछित हैं. उनकी धरपकड़ की कोशिश चल रही है।

Related Articles

Close