उत्तराखंड

लॉकडाउन में मिला राशन मंडी समिति ने दबाया, वीडियो वायरल होने के बाद राशन को ठिकाने लगाने की जुगत में लगे मंडी अधिकारी

ऋषिकेश, 04 जनवरी। लॉकडाउन के दौरान जो कुंटलो राशन गरीबों के पेट में होना चाहिए था वह राशन मंडी समिति की दूकानों में सड़ रहा है। इसकी वीडियो वायरल हुई है। जिसके बाद मंडी समिति मामले को दबाने की कोशिश में लग गई है। वहीं अधिकारियों में भी हड़कंप मच गया है।
दरअसल, लॉकडाउन के दौरान मंडी समिति को गरीबों की मदद के लिए राशन उपलब्ध कराया गया था। जिसे मंडी के अधिकारियों ने लापरवाही के चलते अपनी दुकानों में सड़ने के लिए छोड़ दिया। नतीजा लॉकडाउन खत्म होने के 6 महीने बाद राशन को ठिकाने लगाने का नंबर लगा दिया गया। दुकानें खुली तो सड़ते हुए राशन की वीडियो बनकर वायरल हो गई। मामले में जब जानकारी लेने के लिए मंडी के अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश की गई तो किसी से भी बात नहीं हो सकी। मामले में मंडी अधिकारियों की ओर से पक्ष आने के बाद प्रकाशित किया जाएगा। उत्तराखंड के सबसे लोकप्रिय मंत्री सुबोध उनियाल की छवि को धूमिल करने में लगे हुए हैं। अधिकारी वही ऋषिकेश मंडी समिति से किशन पाल सिंह को सेवानिवृत्त हुए 4 दिन हो गए हैं आज भी उनका मंडी में दबदबा बा दस्तूर बना हुआ है दुकान नंबर सी 24 25 27 की चाबी किशनपाल के पास ही रहती थी आखिर किशन पाल सिंह के ऊपर कौन मेहरबान है यह भी एक सवालिया निशान है। अब देखना है कि उत्तराखंड के लोकप्रिय मंत्री सुबोध उनियाल क्या कार्रवाई करते हैं।

Related Articles

Close