स्वास्थ्य

गुरु राम राय विशवविद्यालय के उत्तम अग्रहरि ने अग्रेंजी नववर्ष का आगाज पूर्ण भुजंगासन में नोबेल विश्व रिकॉर्ड बना कर किया

 

देहरादून,07 जनवरी । गुरु राम राय विश्वविद्यालय के योग विभाग में बैचलर ऑफ सांइस में अध्ययनरत छात्र उत्तम अग्रहरि ने पूर्ण भुजंगासन में नोबेल विश्व रिकॉर्ड बनाकर अपने नाम एक और कृतिमान दर्ज कर लिया है । यह दक्षिण भारत के नोबेल विश्व रिकॉर्ड संस्था के द्वारा ऑनलाइन के माध्यम से आयोजित किया गया जिसमें भारत के ही नहीं अपितु विदेश के योग साधक प्रतिभाग करके अलग अलग आसन में रिकॉर्ड बनाया गया ।
उत्तम अग्रहरि ने अपने शिक्षकों से प्रेरणा लेकर यह कार्य किया इस कार्य से छात्र छात्राएं ही नहीं अपितु पूरे विश्वविद्यालय का सिर ऊंचा हो गया ।
किसी का सहयोग न होने के कारण उत्तम अग्रहरि स्वयं पैसे कमा कर विश्वविद्यालय की फीस जमा करते हैं।क्योंकि बचपन में ही पिता का साया ऊठ गया था ।
उत्तम अग्रहरि इसे पहले गोल्डेन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा चुके हैं जो विश्व योग दिवस 21 जून 2020 को ऑनलाइन आयोजित किया गया और उस में उत्तम अग्रहरि ने उल्लासनगर में रहकर ताडासन में 2 घंटे 2 मिनट का विश्व रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया । इससे पहले लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी उत्तम अग्रहरि का नाम 108 सूर्य नमस्कार में दर्ज है ।
अभी उत्तर प्रदेश योग फेडरेशन ने योग प्रतियोगिता का आयोजन 21 से 24 अक्टूबर को आयोजित किया गया जिसमें उत्तम अग्रहरि ने जिला स्तर पर प्रथम पुरस्कार गोल्ड मेडल जीता । और 21 से 28 नवंबर तक राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन आनलाइन के माध्यम से हुआ जिसमें उत्तम अग्रहरि को पूरे उत्तर प्रदेश में 7 स्थान प्राप्त किया।
फरवरी 2020 में पतंजलि योगपीठ द्वारा आयोजित योग प्रतियोगिता में गुरु राम राय विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्वा करतें हूँ जिला स्तर पर गोल्ड मेडल और राज्य स्तरीय में समूह प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल जीता है इन की टीम राष्ट्रीय स्तर के प्रतियोगिता के लिए चयनित कि गयी है।
अभी उत्तम अग्रहरि को चेन्नई की संस्था पतंजलि कालेज द्वारा युवा भारती पुरस्कार से समानित किया ।
उत्तम अग्रहरि के द्वारा भारत के हर राज्य में योग का ज्ञान दिया जा रहा है अपितु विदेशों में भी योग का प्रसार के लिए दिन रात श्रम किया जा रहा है ।
निशुल्क योग का प्रशिक्षण उत्तम अग्रहरि के द्वारा समय समय दिया जाता हैं ।
एक गरीब परिवार में जन्में उत्तम अग्रहरि बचपन में ही पिता का साया सिर से उठ गया इन का जीवन ही संघर्ष से परिपूर्ण रहा परन्तु इन्होंने अपने परिस्थितियों को अपने ऊपर हभी नहीं होने दिया परिस्थितियों से कुछ नया सीखा ।
जो बचपन से किक्रेट बनाने के भाव लेकर जीता था अब वह योगी हो गया परिस्थिति किस को कहा लाकर स्थिति कर दे नहीं पता।
उत्तम अग्रहरि ने बताया कि अभी ऐसे 50 विश्व रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराये गये जिसमें प्रमुख्य है 1 मिनट में 100 मीटर हाथ के बल चलकर नया रिकॉर्ड बनाया जाये ।
राज्य सरकार को पत्र लिखकर कर 26 जनवरी को हाथ के बल चलकर दुनिया को योग की ताकत से परिचित कराये गें इसके लिए राज्य सरकार को पत्र लिखेंगे उत्तम अग्रहरि ।

उत्तम अग्रहरि , राष्ट्रीय योग खिलाड़ी , योग शिक्षक, गोल्डेन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर, लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर , नोबेल विश्व रिकॉर्ड होल्डर , सामाजिक कार्यकर्ता
गुरु राम राय विश्वविद्यालय पथरी बाग देहरादून उत्तराखंड
7895155533

Related Articles

Close