भ्रष्टाचार

लॉपिंग की अनुमति की आड़ में आम के बगीचे में चली आरी, लकड़ी तस्करों ने गिरा दिए पेड़ के पेड़

 

ऋषिकेश 19 जनवरी। तीर्थनगरी ऋषिकेश की श्यामपुर ग्रामसभा में 30 पेड़ों की लॉपिंग की अनुमति की आड़ में हरा-भरा आम का बगीचा काटा जा रहा है। लेकिन कार्यवाही के नाम पर प्रशासन मूकदर्शक बनकर बैठा हुआ है।
एआईसीसी सदस्य जयेंद्र रमोला ने आरोप लगाते हुए कहा कि श्यामपुर ग्रामसभा में गढ़ी मयचक रोड़ पर पुल के समीप एक आम का हरा भरा बगीचा है। जहां लकड़ी तस्कर 30 पेड़ों की लॉपिंग की आड़ में बगीचे के पेड़ों को काट रहे हैं। बताया कि उन्होंने मामले को लेकर उद्यान अधिकारी संजय पुरी से टेलिफोन पर वार्ता की। जिसमें उद्यान अधिकारी पुरी ने बताया कि 30 पेड़ों की लॉपिंग करने की अनुमति दी गई है। लेकिन अगर लॉपिंग की अनुमति की आड़ में पेड़ों को काटा जा रहा है तो इसकी जांच की जायेगी।
कांग्रेस नेता जयेंद्र रमोला ने कहा कि एक ओर तो प्रधानमंत्री से लेकर न्यायालय तक देश में नदियों, पेड़ों और प्रकृति को बचाने के साथ-साथ पेड लगाने पर ज़ोर दे रहे हैं और उत्तराखण्ड में तो हरेला पर्व सरकारी स्तर पर भी मनाया जाता है। वहीं ऋषिकेश की ग्रामसभा गढ़ी में खुलेआम आम के हरे भरे वृक्षों को काटा जा रहा है। लेकिन प्रशासन मौन है। कहा कि यदि मामले में शीघ्र ही कार्यवाही नहीं हुई तो हमें मजबूरन आंदोलन के लिये बाध्य होना पड़ेगा।

Related Articles

Close