आपदा

24-25 फरवरी को बढ़ सकता है ऋषिगंगा का जलस्तर, अलर्ट पर एजेंसियां

चमोली। आगामी 24 और 25 फरवरी को मौसम विभाग ने बारिश का अलर्ट जारी किया है। जिसके बाद ऋषि गंगा में भी जलस्तर बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। एनटीपीसी टनल साइट पर राहत बचाव कार्यों में जुटे कर्मियों को भी अलर्ट पर रखा गया है। एनटीपीसी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अगर बारिश ज्यादा होती है तो एहतियात के तौर पर ऋषिगंगा के किनारे रैणी गांव के पास और तपोवन टनल साइट पर राहत बचाव कार्य भी रोका जा सकता है।
एनटीपीसी के महाप्रबंधक आरपी अहरिवार का कहना है कि मौसम विभाग के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार 24 व 25 फरवरी को ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश और बर्फबारी का आशंका जताई गई है। बारिश होने से ऋषिगंगा के जलस्तर में इजाफा हो सकता है। उन्होंने कहा कि नदी में मलबा भर जाने से जलस्तर अधिक ऊंचाई तक उठ सकता है। ऐसे में टनल के अंदर भी पानी घुस सकता है। इसलिए हल्की बारिश होने पर एहतियात के तौर पर राहत बचाव कार्य दो दिनों के लिए रोका जा सकता है। बारिश के बाद नदी के जलस्तर घटने तक अलर्ट जारी रहेगा। उत्तराखंड मौसम विभाग ने 22 फरवरी से ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की और मध्यम बारिश सहित बर्फबारी की आशंका जताई है। हालांकि आईएमडी ने यह भी स्पष्ट किया है कि सर्दियों के मौसम में होने वाली बारिश से नदी का जलस्तर बढ़ने की संभावना कम ही रहती है।

Related Articles

Close