उत्तराखंड

पति की पैतृक संपत्ति में महिलाओं का बराबर का हक, त्रिवेंद्र सरकार का ऐतिहासिक फैसला : कुसुम कंडवाल

ऋषिकेश,23 फरवरी। महिला मोर्चा के द्वारा ऋषिकेश बीजेपी कार्यालय में एक प्रेस वार्ता की गई प्रेस को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी कुसुम कंडवाल ने कहा मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि बुधवार को कैबिनेट के द्वारा लिया गया फैसला स्वागत योग्य है। महिला सशक्तिकरण के लिए बहुत अच्छी पहल है। महिलाओं को पति के पैतृक संपत्ति में हिस्सेदारी सुनिश्चित की गई है। अगर कोई महिला अपने पति को तलाक देती है तो उसे पूरा अधिकार है पति की पैतृक संपत्ति में हिस्से का। अगर कोई महिला दूसरा विवाह करना चाहे तो उसको वह लाभ नहीं मिलेगा। अगर कोई महिला अपना रोजगार शुरू करने के लिए बैंक से लोन लेती है तो वहां सुविधा भी उसे मिलेगी क्योंकि पैतृक संपत्ति में वह भी बराबर की हिस्सेदार है। वह बैंक में अपनी संपत्ति को बंधक कर अपना रोजगार शुरू कर सकती है। इस अवसर पर महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष रचिता ठाकुर गढ़वाल की सह संयोजक महिला मोर्चा विमला नैथान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की सह संयोजक सरोज डिमरी, अध्यक्षता महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष उषा जोशी ने की संचालन मंडल महामंत्री सीमा रानी जी ने किया।

Related Articles

Close