उत्तराखंड

बजट सत्र का दूसरा दिनः प्रश्नकाल में विपक्ष ने दागे सवाल

गैरसैंण। भारड़ीसैंण में चल रहे बजट सत्र का दूसरे दिन की कार्यवाही 11 बजे शुरू हुई। सदन में 12.15 तक प्रश्नकाल चला। प्रश्नकाल के दौरान विपक्ष के विधायकों द्वारा कई ज्वलंत मुद्दो पर सवाल उठाए गए। वहीं मंत्री हरक सिंह रावत और यशपाल आर्य के विभागों पर सवाल किये गये।
भराड़ीसैंण में विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई और राज्यपाल बेबी रानी मौर्य के अभिभाषण पर चर्चा की गयी। सदन में 12.15 तक प्रश्नकाल चला। इस दौरान विपक्ष के विधायकों द्वारा कई ज्वलंत मुद्दों पर सवाल उठाए गए। आज मंत्री हरक सिंह रावत और यशपाल आर्य के विभागों पर सवाल किये गये। सदन में विपक्ष के विधायक काजी निजामुद्दीन ने सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट पर सवाल किया. जिस पर सरकार की तरफ से वन एवं प्रर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत ने अवशिष्ट प्रबन्धन विषय पर अपना पक्ष रखा। इसके अलावा सदन में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने चमोली आपदा को लेकर सवाल किया। उन्होंने पूछा कि आपदा को लेकर अलर्ट सिस्टम ने काम क्यों नहीं किया। जिस पर वन एवं प्रर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत ने अलार्मिंग सिस्टम की जानकारी दी। इसके अलावा सत्ता पक्ष के विधायक देशराज कर्णवाल के अनुसूचित जाति उप योजना के समग्र उत्थान के प्रश्न पर समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने अपना जवाब प्रस्ुत किया। विधायक प्रीतम सिंह ने चमोली और बागेश्वर में संचालित वृद्धाश्रम के लिए आवंटित बजट की जानकारी मांगी। जिस पर समाज कल्याण मंत्री ने विस्तृत जानकारी दी। वहीं, प्रीतम सिंह पंवार ने कोविड-19 महामारी में यातायात ठप रहने से हुए नुकसान और उनकी परेशानी को कम करने के लिए सरकार के प्रयास के बारे में पूछा। जिस पर परिवहन मंत्री ने सरकार द्वारा किये गए उपायों और योजना की जानकारी दी।

Related Articles

Close