उत्तर प्रदेश

*मृतक के रुपए निकालने वाला बैंक मित्र को लोनार पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल*

 

*हरदोई*  ( *उत्तर प्रदेश*) 12 मार्च।  जनपद हरदोई के लोनार थाना क्षेत्र के निजामपुर गांव का सुनील जौहरी पुत्र श्यामलाल जौहरी आर्यवर्त ग्रामीण बैंक जगदीशपुर में बैंक मित्र था।अगस्त 2020 में तेरिया निवासी मनोज कठेरिया ने हरदोई की लीड बैंक के प्रबंधक से बैंकमित्र सुनील जौहरी पर धोखाधड़ी की शिकायत की थी ।शिकायत में कहा था कि निजामपुर निवासी महिला जगदेई पत्नी ओमप्रकाश की मृत्यु सितंबर 2017 में हो गयी थी जिसका पोस्टमार्टम भी हुआ था।बैंककर्मी सुनील ने महिला के पति ओमप्रकाश से मिलकर महिला की मृत्यु के तीन महीने बाद फर्जी कागज तैयार करके पहले महिला का नाम जगदेई से बदलकर ज्ञानवती कर दिया। और आर्यवर्त बैंक में ही महिला के नाम से 350 रुपये का  वीमा कराया,बाद में फिर से महिला का फर्जी मृत्यु प्रमाणपत्र तैयार करके 2 लाख रुपये की वीमा क्लेम की राशि ओमप्रकाश के खाते में भेजवा दी। उसके बाद बीमा की राशि किश्तों में अपनी पत्नी रेखा तथा कुछ रिश्तेदार के खाते में ट्रांसफर करा दी।
जब इस शिकायत के आरोपों की बैंक द्वारा जांच की गई तो मामला सही पाया गया। बैंक ने कार्यवाही करते हुए  सुनील जौहरी को बैंकमित्र के कार्य से मुक्त करके मामले की रिपोर्ट थाना लोनार में दर्ज करा दी।
तभी से आरोपी सुनील जौहरी पुलिस से आंख मिचौली खेल रहा था।लोनार कोतवाल सुरेन्द्र कुमार सोनकर, ने बताया बावन पुलिस टीम चौकी प्रभारी धर्मेंद्र विश्नोई ने गुरुवार को सुनील जौहरी को  बावन नहर के पुल से गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है।   *रिपोर्ट-संदीप शुक्ला*

Related Articles

Close