उत्तराखंड

तीरथ की छवि को लगे चार चाँद

दुर्गेश मिश्रा……..

तीरथ तेरा खूब कमाल, उत्तराखंड की राजनीति में मचाया धमाल..

शपथ लेते ही नौकरशाही पर कसी लगाम, बच्चा बुजुर्ग भी मान रहा तीरथ के फरमान..

वीआईपी हो या आम इंसान, सबको रखता एक समान..

गुरु के राह कदम पर चलकर, बढ़ा रहा जनरल खंडूरी का नाम..

विपक्षी करना चाहते हैं तीरथ को परेशान, लेकिन तीरथ फिर भी देता उनको सम्मान..

जनहित में करूंगा प्रत्येक काम, ऐसी बनाई है तीरथ ने अपनी पहचान..

उपचुनाव को विपक्षी भी कर रहा सीट छोड़ने का ऐलान, तभी तो कहते हैं कि मेरा भारत महान..

देहरादून, 19 मार्च।( आज का आदित्य )लगभग 4 साल तक प्रदेश में भाजपा की सरकार चलाकर त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफा देने के बाद से ही उत्तराखंड की राजनीति देशभर में चर्चाओं का विषय बनी रही।
अब प्रदेश में भाजपा की नई सरकार बनाकर सीएम तीरथ सिंह रावत भी लगातार चर्चाओं में बने हैं।
तीरथ सिंह रावत के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने से अब तक उन्होंने कई बड़े फैसले लिए हैं। नौकरशाही पर लगाम लगाने के साथ ही जनहित और जन भावना से जुड़े बड़े ऐलान जारी किए। हाल ही में एक संबोधन में उन्होंने अभिभावकों को बच्चों को अच्छे संस्कार देने संबंधी सकारात्मक संदेश दिया। जिसमें उन्होंने पाश्चात्य संस्कृति को छोड़कर भारतीय संस्कृति अपनाने बात कही। जिससे वीआईपी हो या आम कार्यकर्ता सभी उनमें उनके राजनीतिक गुरु जनरल खंडूरी की छवि देख रहे हैं। यही नहीं विधानसभा में उपचुनाव के लिए मुख्य विपक्षी पार्टी के विधायक जी ने सीट छोड़ने के ऐलान भी जारी किया है। जिससे तीरथ की साफ-सुथरी, निष्पक्ष व ईमानदार राजनीतिक छवि पर चार चांद लग गए हैं।

Related Articles

Close