उत्तराखंड

*खाकी में भी इंसान होता है : डीजीपी अशोक कुमार*

मुनिकीरेती स्थित गंगा रिसोर्ट में लोगों के सामने डीजीपी ने अपने अनुभव साझा किए

मुनिकीरेती, 21 मार्च। उत्तराखंड के पुलिस विभाग के मुखिया आईपीएस अशोक कुमार ने कहा कि खाकी में इंसान होता है। पुलिस जवान के दिल में भी आम लोगों की तरह इंसानियत होती है यह बात उन्होंने मुनी की रेती स्थित जीएमवीएन के गंगा रिसोर्ट खाकी में इंसान परिचर्चा कार्यक्रम में कही कहा कि एक आम आदमी की तरह खाकी वर्दी पहनने वाला भी इंसान होता है। उसके दिल में भी इंसानियत रहती है। हालांकि पुलिसिंग का काम बड़ा ही चुनौतियों से भरा होता है जिसके लिए उन्हें हर समय तैयार रहना पड़ता है। पुलिस को कई तरह की चुनौतियों से सामना करना पड़ता है। लिहाजा वह दिल और दिमाग से लोगों की मदद के लिए हर संभव प्रयास है। चाहे आपदाएं हो चाहे किसी प्रकार की दुर्घटना हो उनका काम है डटकर मुकाबला करना। डीजीपी ने कहा कि अपराधिक मामलों के फास्ट ट्रैक कोर्ट में होनी चाहिए। पीड़ितों को न्याय मिलेगा और इसमें पारदर्शिता आएगी। मौके पर पुलिस कप्तान टिहरी तृप्ति भट्ट ने भी अपने अनुभव शेयर किया मौके पर एसपी देहात स्वतंत्र कुमार, सीओ ऋषिकेश दिनेश चंद ढौडियाल, कोतवाल ऋषिकेश रितेश साह, मुनी की रेती थाना निरीक्षक आरके सकलानी आदि लोग मौजूद रहे।

Related Articles

Close