उत्तराखंड

1000 उपनल कर्मचारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

देहरादून। 25 मार्च को मुख्यमंत्री आवास कूच के दौरान सहस्त्रधारा क्रॉसिंग पर सड़क जाम करने के आरोप में महासंघ के पदाधिकारियों सहित 1000 कर्मचारियों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। 5 मार्च को उपनल कर्मचारी महासंघ एकता विहार से अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री आवास कूच करने की तैयारी की थी। इस दौरान रायपुर पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर उपनल कर्मचारियों को समझाने का प्रयास किया गया और बिना अनुमति के मुख्यमंत्री आवास कूच करने पर कानून व्यवस्था प्रभावित होने की बात कही गई। लेकिन पुलिस द्वारा समझाने के बावजूद उपनल कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री आवास कूच किया और सहस्त्रधारा क्रॉसिंग पहुंच कर कर्मचारियों ने उग्र आंदोलन किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने का प्रयास किया, लेकिन उग्र प्रदर्शन करने से करीब 4 से 5 घंटे का यातायात बाधित रहा। थाना रायपुर प्रभारी दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि शुक्रवार शाम को वीडियोग्राफी देखने के बाद पुलिस ने केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना महामारी के मद्देनजर दिशा-निर्देशों का उलंघन करने पर 1000 प्रदर्शनकारियों पर महामारी एक्ट के तहत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।

Related Articles

Close