धर्म-कर्म

शुक्र मेष राशि में उदय, शादी विवाह, गृह प्रवेश मुंडन सभी मांगलिक कार्य शुरू : आचार्य घिल्डियाल

 

 

18 अप्रैल को रात 11 बजकर 8 मिनट पर सौरमंडल का सबसे चमकीला ग्रह शुक्र मेष राशि में उदय हो। गया है शुक्र के उदय होने के साथ ही शादी विवाह, गृह प्रवेश मुंडन आदि सभी मांगलिक कार्य शुरू हो रहे हैं सौरमंडल में शुक्र और बृहस्पति ऐसे ग्रह है जिनके अस्त होते ही भूमंडल पर समस्त शुभ कार्य वर्जित हो जाते हैं क्योंकि यह दोनों ग्रह भूमंडल पर गृहस्थ जीवन को सबसे ज्यादा प्रभावित करते हैं
उत्तराखंड ज्योतिष रत्न आचार्य डॉ चंडी प्रसाद घिल्डियाल बताते हैं कि शुक्र ग्रह के उदय होने का असर सभी राशियों पर देखने को मिलेगा. उत्तराखंड राज्य का उदय भी कर्क लग्न में हुआ है और कर्क राशि से राज्य भाव में शुक्र का उदय हो रहा है इससे राज्य को केंद्र सरकार से कोई विशेष सहायता बड़े पैकेज के रूप में प्राप्त हो सकती है ।
ज्योतिष वैज्ञानिक डॉक्टर घिल्डियाल बताते हैं कि दैत्य गुरु शुक्र के स्वामित्व वाली वृषभ एवं तुला राशि के जातकों को इस बीच काफी लाभ होगा साथ ही अन्य राशियों पर शुक्र उदय का प्रभाव इस प्रकार रहेगा

मेष राशि- शुक्र के मेष राशि में उदय होने से इस राशि के लोगों को धन लाभ होगा. पारिवार में मधुरता आएगी। साथ ही शादी के योग भी बन रहे हैं. पढ़ाई कर रहे लोगों के लिए समय काफी अच्छा है. जीवन में नई आशा एवं विश्वास का संचार होगा।

वृषभ राशि- इस राशि के लिए यह समय काफी अच्छा साबित होगा। नया मकान और वाहन खरीदने के योग बन रहे हैं। सामादिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी पुरानी बीमारियों से छुटकारा मिलेगा न्यायालय में रुका कार्य पूरा होने की संभावना रहेगी

मिथुन राशि- शुक्र के मेष राशि में उदय होने से इस राशि के लोगों का आर्थिक पक्ष मजबूत बनेगा। प्रेम संबंधों में मधुरता आएगी। धन पद प्रतिष्ठा की प्राप्ति होगी

कर्क राशि- इस दौरान आपको उच्चाधिकारियों से सहयोग मिलेगा। व्यापार से जुड़े लोगों के लिए यह समय काफी अच्छा साबित होगा। नया व्यापार शुरू करने के लिए कमय अच्छा है। राशि से दशम भाव में शुक्र के उदय होने से राज्य पक्ष से विशेष लाभ होने की संभावना रहेगी।

सिंह राशि- शुक्र के मेष राशि में उदय होने से इस राशि के लोगों पर इसका मिला-जुला असर देखने को मिलेगा। नौकरी और व्यापार के लिए समय काफी अच्छा है। परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा। जमीन जायदाद सोना चांदी के व्यापार में बहुत बड़ा लाभ होने की संभावना रहेगी।

कन्या राशि- स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। मान- सम्मान में बढ़ोतरी होगी। लेन- देन के मामलों में सावधानी बरतने की जरूरत है। कोर्ट- कचहरी के मामलों से बचने की कोशिश करें. जितना हो सके मुकदमे और झगड़ों में न पड़े तो अच्छा रहेगा

तुला राशि- तुला राशि के जातकों के लिए शुक्र का उदय होना काफी फायदेमंद होगा. व्यापारियों के लिए ये समय काफी अच्छा साबित होगा। मान- सम्मान में बढ़ोतरी होगी। दांपत्य जीवन में खुशियां आएंगी. धन पद प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी होगी।

वृश्चिक राशि- वृश्चिक राशि के जातकों को सूर्य के उदय होने से सावधानी बरतने की जरूरत है. किसी काम को करने से पहले उसके बारे में अच्छे से सोच लें. लड़ाई -झगड़े से बचकर रहें. शादी विवाह के कार्यों में थोड़ी देरी हो सकती है. दांपत्य जीवन में कड़वाहट रहेगी।

धनु राशि- शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय काफी अच्छा साबित होगा. स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों से छुटकारा मिलने की उम्मीद है। दापंत्य जीवन में प्यार बढ़ेगा. पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. राशि से पंचम भाव में शुक्र के उदय होने से संगीत साहित्य पक्ष से बड़ा लाभ होने की संभावना रहेगी।

मकर राशि- इस दौरान कार्यों में सफलता मिल सकती है। विवाह के योग बन रहे हैं. पारिवारिक जीवन में खुशियां आएंगी. नया मकान या वाहन लेने के योग बन रहे हैं। राशि से चतुर्थ भाव में दैत्य गुरु के उदय होने से कोई बड़ा बिजनेस प्रारंभ हो सकता है।

कुंभ राशि- किए गए कार्यों की समाज में सराहना होगी. धर्म- कर्म के कार्यों में हिस्सा लेने का अवसर मिलेगा। सामाजिक मान- सम्मान भी बढ़ सकता है। राजनीतिक पद प्रतिष्ठा की प्राप्ति हो सकती है।

मीन राशि- मीन राशि के जातकों को शुक्र के उदय होने से मिले- जुल परिणाम मिलेंगे। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। पारिवारिक जीवन में मधुरता आएगी. धन- लाभ होने के योग भी बन रहे हैं।
नया कार्य व्यापार शुरू करने के लिए समय उत्तम है।

आचार्य का परिचय
नाम-आचार्य डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल
पब्लिक सर्विस कमीशन उत्तराखंड से चयनित प्रवक्ता संस्कृत।
निवास स्थान- धर्मपुर चौक के पास अजबपुर रोड पर मोथरोवाला टेंपो स्टैंड 56 / 1 धर्मपुर देहरादून, उत्तराखंड।
मोबाइल नंबर-9411153845
उपलब्धियां
वर्ष 2015 में शिक्षा विभाग में प्रथम गवर्नर अवार्ड से सम्मानित वर्ष 2016 में। सटीक भविष्यवाणी पर उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत सरकार ने दी उत्तराखंड ज्योतिष रत्न की मानद उपाधि। त्रिवेंद्र सरकार ने दिया ज्योतिष विभूषण सम्मान। वर्ष 2013 में केदारनाथ आपदा की सबसे पहले भविष्यवाणी की थी। इसलिए 2015 से 2018 तक लगातार एक्सीलेंस अवार्ड प्राप्त हुआ। ज्योतिष में इस वर्ष 5 सितंबर 2020 को प्रथम वर्चुअल टीचर्स राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त किया। वर्ष 2019 में अमर उजाला की ओर से आयोजित ज्योतिष महासम्मेलन में ग्राफिक एरा में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिया ज्योतिष वैज्ञानिक सम्मान।

Related Articles

Close