उत्तराखंड

श्मशान घाट पर खुले में फेंकी जा रही है पीपीई किट

देहरादून। राजधानी में जहां कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने लोगों को दहशत में डाल रखा है, वहीं रायपुर स्थित कोविड श्मशान घाट पर इस कदर लापरवाही बरती जा रही है कि इससे कोरेाना संक्रमण फैलने की और भी आशंका बढ़ रही है।
रायपुर में बनाये गये कोविड श्मशान घाट पर कोरोना संक्रमितों के शवों का दाह संस्कार किया जा रहा है। इन दिनों संक्रमितों की मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है और श्मशान घाट पर भी 20 से 30 संक्रमितों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। बीते रोज भी 32 शवों का अंतिम संस्कार रायपुर स्थित कोविड श्मशान घाट में किया गया। यहां पर आलम यह है कि शवों के साथ आने वाले लोग पीपीई किट पहलन कर श्मशान घाट में आ रहे हैं और अंतिम संस्कार करने के बाद पीपीई किट उतार कर वहीं छोड़ कर चले जा रहे हैं।
शवों के साथ आने वाले परिजनों की इस लापरवाही के चलते श्मशान घाट में पीपीई किट, मास्क, ग्लब्स आदि इधरकृउधर फैले हुए हैं। जिसके चलते संक्रमण फैलने की आशंका भी बढ़ रही है। पीपीई किट को खुले में नहीं छोड़ने की अपील स्वास्थ्य विभाग से लेकर पुलिस प्रशसान भी करता रहता है इसके बावजूद लोग नहीं चेत रहे हैं। यहां तक कि प्रशासन द्वारा श्मशान घाट पर हिदायत और चेतावनी का बोर्ड भी लगाया हुआ है इसके बावजूद शवों के साथ आने वाले लोग पीपीई किट को खुले में छोड़ कर जा रहे हैं।

Related Articles

Close