कोविड-19

*उतराखंड सरकार के पास तत्काल कोरोना की चैन को तोड़ने के लिए 15 दिन का सम्पूर्ण लॉकडाउन लगाना ही अंतिम विकल्प ÷ वरिष्ठ समाजसेवी योगेश राघव*

 

उत्तराखंड मे पिछले 72 घन्टे मे आये कोरोना संक्रमण और मौतों के आंकड़ो को देख कर प्रदेश के वरिष्ठ समाजसेवी योगेश राघव ने कठोर प्रतिक्रया देते हुए कहा कि लोग बीमारी से कम इलाज के अभाव में ज्यादा मर रहे ।
राघव ने कहा कि उत्तराखंड में बेकाबू और जानलेवा होते जा रहे कोरोना से लोगों को बचाने में सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है , पिछले 72 घन्टे के संक्रमण और मौतों के आंकड़ों ने लोगों के दिलों में दहशत भर दी है और धीरे धीरे लोगों का विश्वास सरकार और सिस्टम से खत्म हो रहा है । उन्होंने कहा कि वह इससे पहले भी उत्तराखंड सरकार से सम्पूर्ण लॉकडाउन लगाने ने की अपील कर चुके है । कोरोना का हॉटस्पॉट बना देहरादून देश के टॉप-10 संक्रमित जिलों मे शामिल हो चुका है ।
समाजसेवी योगेश राघव ने कहा कि सुबह से लेकर रात और फिर सुबह तक फोन पर रोते बिलखते व गिड़गिड़ाते लोगों को सुन कर वह हतोसाहित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि न अस्पतालों में ऑक्सीजन बैड ना आईसीयू न घर में लगाने के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर तो ऐसे में रोजाना बढ़ते हुए मरीज कहाँ जाएंगे ? उन्होंने कहा कि सरकार व शासन से रोज बयान जारी हो रहे हैं कि ऑक्सीजन की कमी नहीं बैड की कमी नहीं नए बैड तैयार किन्तु जमीनी हकीकत यह है कि लोग बीमारी से कम इलाज व ऑक्सीजन न मिलने से ज्यादा मर रहे हैं। सरकार की  यह नैतिक जिम्मेदारी है कि वो लोगों को इलाज मुहैय्या करवाये । राघव ने कहा जिस तरह मरने वालों का आंकड़ा दिन प्रतिदिन बढ़ रहा तो आने वाले दिनों मे अगर स्थितियां नहीं संभली तो अकल्पनीय जन हानि हो सकती है ।आंकड़ो को देख कर लगता है सरकार को शीर्घ अति शीर्घ कोरोना की चैन को तोडने के लिए कठोर से कठोर कदम उठाने अत्यंत आवश्यक है। मेरा राज्य सरकार को सुझाव है कि उत्तराखंड मे 15 दिन का सम्पूर्ण लॉकडाउन लगा देना चाहिए यही अंतिम विकल्प है । तभी हम कोरोना की चैन को तोडने मे सफल हो पायेगे, राज्य सरकार को इस पर गंभीरतापूर्वक विचार-विमर्श करना चाहिए नही तो प्रदेश की जनता को इसका नुकसान उठाना पड़ेगा और प्रदेश मे कोरोना को विकराल रूप लेने मे अधिक समय नही लगेगा राघव ने कहा कि कल प्रदेश मे मरने वालों का आंकड़ा 137 पहुंच गया और संक्रमितों का नौ हजार पार कर गया जो कि बहुत डरावना है। इसलिए अभी भी सरकार के पास उचित समय है कि वह शीर्घ ही कोरोना के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन उत्तराखंड मे लगा दे और शीर्घ ही सेना का सहयोग ले क्योंकि राज्य मे स्थिति विकराल हो चुकी है ।
समाजसेवी योगेश राघव ने प्रदेश की समस्त जनता से अपील करते हुए कहा है वह की कोविड गाइडलाईन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंस व मास्क का उपयोग करे, जनता के सक्रिय सहयोग के बिना कोरोना को पूर्ण रूप से परास्त नहीं किया जा सकता हर व्यक्ति ये संकल्प लें कि वह लगातार मास्क का उपयोग करेगा तथा सोशल डिस्टेंस बनाए रखेगा। इसी माध्यम से संक्रमण की चैन टूटेगी और अपनी बारी आने पर कोरोना का टीका अवश्य लगवाएं ।

Related Articles

Close