उत्तराखंडक्राइम

राज मिस्त्री ने नाबालिग का अपहरण कर मांगी 15 लाख की फिरौती

ऋषिकेश, 25 जुलाई। कोतवाली क्षेत्रांतर्गत नाबालिग लड़के का अपहरण करने के आरोप में पुलिस ने राज मिस्त्री को गिरफ्तार किया है साथी अपहरणकर्ता के चुंगल से नाबालिक लड़के को भी बरामद बरामद कर लिया है। गया। घटना से पुलिस वआसपास पड़ोस के लोगों के हड़कंप मच गया हालांकि पुलिस ने मामले में गंभीरता दिखाते हुए पांच टीमों का गठन कर अलग-अलग क्षेत्रों में रवाना किया। वहीं, यूपी पुलिस ने बिजनौर जिले के धामपुर से रोडवेज बस से अपहरणकर्ता को पकड़ कर उसके कब्जे से नाबालिग को बरामद कर लिया है।
घटना शनिवार दोपहर 1:00 बजे बजे की है। एम्स में सिक्योरिटी गार्ड सुपरवाइजर पद पर तैनात व्यक्ति का 12 वर्षीय बेटा घर पर मौजूद था। उसी समय भोला नामक एक राजमिस्त्री घर पर आया और 12 वर्षीय नाबालिग को कुछ सामान दिलाने के बहाने घर से लेकर गया और वापस ही नहीं लौटा। उन्होंने बताया जब राजमिस्त्री भोला के मोबाइल नंबर पर काल लगाया तो उसने फोन नहीं उठाया। वहीं कुछ देर बाद उनकी पत्नी ने राजमिस्त्री के नंबर पर फोन लगाया तो उधर से आवाज आई कि उनका बेटा मेरे पास है, धमकी भरे लहजे में ग्राहक दो घंटे के भीतर 15 लाख रूपए का इंतजाम करो। साथ ही यह भी कहा कि पुलिस को बताने पर बेटा नहीं मिलेगा। इस पर उनकी पत्नी ने कहा कि इतने रूपए हमारे पास नहीं हैं तो अपहरणकर्ता ने 13 लाख रूपए देने को कहा।
नाबालिक के पिता ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर पुलिस व स्थानीय प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। पुलिस मौके पर पहुंची और जानकारी जुटाई। कोतवाली पुलिस के अनुसार ने बताया कि अपहरणकर्ता और बच्चे की सकुशल बरामदगी के लिए पांच टीमें गठित कर अलग-अलग क्षेत्रों में रवाना की गई। अपहरणकर्ता की पहचान भोला निवासी बिहार हाल निवासी माया मार्केट श्यामपुर ऋषिकेश के रूप में कराई है।उत्तर प्रदेश पुलिस ने बिजनौर जिले के धामपुर से फायर स्टेशन के पास रोडवेज बस से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, साथ ही नाबालिग को सकुशल बरामद भी किया है। पुलिस ने बताया कि पूछताछ के बाद रविवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Related Articles

Close