उत्तराखंड

पहाड़ों से गिर रहे पत्थरों से हाईवे तहस-नहस

ऋषिकेश 10 सितंबर। उत्तराखंड में लगातार हो रही बारिश एक के बाद एक रोंगटे खड़े कर देने वाले दृश्य सामने ला रही है। बीती रात प्रदेश के कई इलाकों में हुई मूसलाधार बारिश ने ऐसा कहर बरपाया कि सुबह इससे पैदा हुए हालात की तस्वीरें देख आपका दिल दहल उठेगा। ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर भूस्खलन के कारण पूरी सड़क तहस-नहस हो चुकी है। पहाड़ से गिर रहे पत्थरों ने सड़क से गुजर रहे वाहनों की हालत बिगाड़ कर रख दी है। ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर सिरोबगड़ के पास तेज बारिश के दौरान पहाड़ से बड़े-बड़े पत्थर गिरने लगे। उस समय सड़क से गुजर रहे वाहनों के आगे एक के बाद एक गिरते पत्थरों की वजह से पूरा हाईवे देखते ही देखते मलबे के ढेर जैसा दिखने लगा। जिन वाहनों के ड्राइवरों ने मौत का यह मंजर देखा, उनके लिए हालात बयां करना कठिन है। भूस्खलन के कारण कहीं ट्रक, डंपर जैसे वाहनों का आधा हिस्सा पहाड़ पर लटकने लगा, तो छोटी कारें मलबों के नीचे दब गईं। बह होने के बाद जब भूस्खलन रुका, तब जाकर इन वाहनों के ड्राइवर की जान में जान आई। कुदरत की कहर का ऐसा खौफनाक मंजर देखने वाले ड्राइवरों ने बताया कि उन लोगों के लिए यहां रात बिताना बेहद कठिन रहा. पूरी रात सांसें अटकी रहीं। द्रप्रयाग जिले में पड़ने वाले सिरोबगड़ में हुई तेज बारिश से एक तरफ जहां भारी नुकसान पहुंचा है, वहीं हाईवे पर लंबा जाम भी लग गया। हालांकि मौसम में बदलाव की संभावना के मद्देनजर प्रशासन ने अगले आदेश तक इस रूट पर वाहनों की आवाजाही रोक दी है। त्तराखंड में सिर्फ सिरोबगड़ के पास ही नहीं, बल्कि कई अन्य स्थानों पर भी गुरुवार की रात तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश हुई। इस दौरान भूस्खलन की घटनाएं भी हुईं. सरकार ने इस वजह से प्रदेश में कई राजमार्गों पर वाहनों का आवागमन रोकने का निर्देश जारी कर दिया है।

Related Articles

Close