उत्तराखंडराशिफल

14 सितंबर 2021 से शनि और गुरु के एक ही राशि में आने से इन राशियों का चमकेगा भाग्य, बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा


Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 72

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 72

राजनीति में होगी उथल-पुथल डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल की भविष्यवाणियां हो रही है सटीक साबित।

उत्तराखंड ज्योतिष रत्न आचार्य डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल बताते हैं कि 14 सितंबर 2021 को देव गुरु बृहस्पति कुंभ राशि से वक्र गति चलते हुए शनि की दूसरी मकर राशि में प्रवेश करेंगे जहां पर शनिदेव पहले से ही विराजमान हैं शनि और बृहस्पति में गुरु शिष्य संबंध होता है इसलिए इनका मिलना ज्योतिष शास्त्र में मणिकांचन योग के नाम से जाना जाता है

ज्योतिष में शनि और देवगुरु बृहस्पति को महत्वपूर्ण ग्रह माना जाता है। इस समय शनि मकर राशि में विराजमान हैं। देवगुरु बृहस्पति भी 14 सितंबर को मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। देवगुरु बृहस्पति इस राशि में 21 नवंबर तक विराजमान रहेंगे। देवगुरु बृहस्पति और शनि के एक ही राशि में आने से शुभ योग बन रहा है। इस शुभ योग के निर्माण से कुछ राशियों को फायदा होने जा रहा है। इन राशियों पर कुछ समय तक मां लक्ष्मी की विशेष कृपा रहेगी।.
ज्योतिष शास्त्र में अनेक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल बताते हैं कि 2 माह के इस समय जिसमें शारदीय नवरात्र भी आ रहा है और दीपावली भी रहेगी ग्रहों का पूर्ण वैदिक और वैज्ञानिक पद्धति से यंत्र सिद्ध करने से विभिन्न क्षेत्रों में लोगों को मनोवांछित फलों की प्राप्ति होगी मंत्र और यंत्र की सिद्धि के लिए यह समय वरदान से कम नहीं है।

मेष राशि़
मेष राशि के लिए गुरु और शनि का ही राशि में आना शुभ कहा जा सकता है।
मां लक्ष्मी की कृपा से आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
नौकरी और व्यापार में तरक्की करेंगे।
स्वास्थ्य बेहतर रहेगा।
मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्दि होगी।
कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे।
आपके द्वारा किए गए कार्यों की सर्वत्र सराहना होगी

वृष राशि

वृष राशि के जातकों के लिए गुरु और शनि का एक ही राशि में आना अत्यधिक शुभ रहेगा
मां लक्ष्मी की विशेष कृपा रहेगी।
नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ है।
निवेश करने से लाभ होगा।
कार्यों में सफलता मिलेगी।

कर्क राशि

कर्क राशि के जातकों के लिए गुर और शनि का एक ही राशि में आना शुभ रहने वाला है।
दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।
मां लक्ष्मी की कृपा से धन- लाभ होगा।
कार्यक्षेत्र में खूब मान- सम्मान मिलेगा।
पद- प्रतिष्ठा में वृद्दि होगी।ॉ
नौकरी और व्यापार में लाभ के योग बन रहे हैं।
कार्यक्षेत्र में आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की जाएगी।
गुरु कृपा से आने वाले 4 दिनों तक ये राशि वाले मनाएंगे जश्न, नौकरी और व्यापार में होंगे बड़े बदलाव

मीन राशि
मीन राशि के जातकों के लिए यह समय वरदान के समान है शिक्षा से जुड़े लोगों को विशेष रूप से फायदा होगा गुरु और शनि के एक ही राशि में आने से जो मणिकांचन योग बन रहा है उससे मीन राशि वालों पर लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी आर्थिक क्षेत्र में जो पुरानी समस्याएं चल रही थी उनसे छुटकारा मिलने का समय आ रहा है
कार्यक्षेत्र में सफलता प्राप्त करेंगे।
परिवार के सदस्यों का सहयोग प्राप्त करेंगे।
वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।
ज्योतिष वैज्ञानिक आचार्य डॉक्टर चंद्र प्रसाद घिल्डियाल बताते हैं कि इस समय अंतराल में जहां प्रकृति में उथल-पुथल होगी वही राजनीति में भी काफी बड़े फेरबदल देखने को मिलेंगे अप्रत्याशित दलबदल होंगे
यहां यह स्मरणीय है कि डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल की भविष्यवाणियां लंबे समय से सटीक साबित हो रही है मार्च में उन्होंने उत्तराखंड में राजनीतिक उथल-पुथल की भविष्यवाणी कर दी थी त्रिवेंद्र सिंह रावत के मुख्यमंत्री पद से हट कर जब तीरथ सिंह रावत मुख्यमंत्री बने तो डॉक्टर घिल्डियाल ने पहले ही कह दिया था कि वह अपने विभिन्न बयानों के लिए विवादित होंगे और हरिद्वार में कुंभ पर खराब ग्रहों का साया होने से कुंभ के तत्काल बाद शासन प्रशासन में भारी फेरबदल हो सकते हैं। और यही सत्य हुआ पुष्कर सिंह धामी मुख्यमंत्री बने नव संवत्सर पर उन्होंने कहा था कि इस वर्ष राक्षस नाम का संवत्सर होने से और ग्रहों की इस प्रकार की स्थिति बन रही है कि जगह-जगह भूकंप की स्थिति बनेगी और देखने में आ रहा है कि उनकी यह भविष्यवाणी भी सटीक साबित हो रही है।


Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Related Articles


Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 72

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 72
Close