UNCATEGORIZEDपंजाबसियासी हलचल

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा

विधायकों ने की थी मुख्यमंत्री बदलने की मांग

विधायकों ने की थी मुख्यमंत्री बदलने की मांगआज की अमेरिंदर ने की सोनिया गांधी से फोन पर वार्ता


चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने चंडीगढ़ स्थित राजभनव में पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा।इससे पहले, कई विधायकों ने सीएम अमरिंदर सिंह को हटाने की मांग करते हुए सोनिया गांधी को पत्र लिखा था, जिसके बाद पार्टी आलाकमान ने अमरिंदर सिंह को सीएम पद से इस्तीफा देने का निर्देश दिया था। पार्टी आलाकमान का निर्देश मिलने के बाद कैप्टन अमरिंदर ने चंडीगढ़ स्थित अपने आवास पर समर्थक विधायकों के साथ बैठक की और इस्तीफा देने का फैसला किया। इस बीच, विधायक दल की बैठक के लिए कांग्रेस के केंद्रीय पर्यवेक्षक अजय माकन और हरीश चौधरी तथा पार्टी के प्रदेश प्रभारी हरीश रावत चंडीगढ़ पहुंच गए हैं। चंडीगढ़ पहुंचने पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने उनका स्वागत किया। कांग्रेस विधायक दल की बैठक शाम पांच बजे होनी है। सूत्रों के मुताबिक, अमरिंदर सिंह ने शनिवार को सोनिया गांधी से बात की और बार-बार हो रहे ‘अपमान’ को लेकर नाराजगी और नाखुशी जताई थी। पार्टी के उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि 50 से अधिक विधायकों ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटाया जाए। सूत्रों का यह भी कहना है कि यह संकट गंभीर है क्योंकि बहुत सारे विधायकों ने विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले मुख्यमंत्री को बदलने की मांग की थी। विधायकों ने अपने पत्र में सोनिया गांधी से विधायक दल की बैठक बुलाने की मांग की थी। पार्टी आलाकमान ने शनिवार शाम बैठक बुलाने का निर्देश दिया और वरिष्ठ नेताओं – अजय माकन और हरीश चौधरी को केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किया।

Related Articles

Close