उत्तराखंडधर्म-कर्म

मंहत नरेन्द्र गिरि मौत प्रकरणः पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दम घुटने से मौत की पुष्टि, अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब, दी जाएगी भू समाधि

प्रयागराज,22सितंबर। महंत नरेंद्र गिरि के पार्थिव शरीर को गंगा तट पर ले जाकर संगम के पवित्र जल से विधि विधान पूर्वक स्नान कराया गया। पूरा संगम तट श्रद्धालुओं से पट गया है। लोग महंत के अंतिम दर्शन पाने के लिए धक्कामुक्की कर रहे हैं। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल भी मौजूद है। महंत नरेंद्र गिरि की अंतिम यात्रा संगम तट स्थित श्री लेटे हनुमान (बड़े हनुमान) मंदिर के पास पहुंच गई है। यहां पर बड़ी संख्या में लोग महंत के नाम से जयकारे लगा रहे हैं। डिप्टी सीएम के साथ भाजपा के बड़ी संख्या में पदाधिकारियों के अलावा भाजपा शहर उत्तरी के विधायक हर्षवर्धन बाजपेयी भी पर पहुंच गए हैं। महंत नरेंद्र गिरि की अंतिम यात्रा की अगुवाई डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य कर रहे हैं। संगम जाने वाले मार्ग पर आम लोगों का यातायात रोक दिया गया है। पूरी सड़क को खाली करा दिया गया है। फूलों से सजे रथ पर अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरि के शव को लेकर निकाला गई यात्रा में महंत के अंतिम दर्शन के लिए संगम जाने वाले मार्गों पर भारी भीड़ जमा हो गई है। लोग जगह जगह फूल माला चढ़ा कर श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और बाघमबारी गद्दी मठ के महंत नरेंद्र गिरि का पार्थिव शरीर पोस्टमार्टम के बाद मठ लाया गया है। मठ में कुछ देर संतों और भक्तों के दर्शन के बाद पार्थिव शरीर को सुसज्जित रथ पर रखकर अंतिम यात्रा निकाली गई।  महंत की अंतिम यात्रा में संतों और भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा है । त्रिवेणी संगम पर पार्थिव शरीर को  स्नान कराने के बाद  मठ में भू समाधि दी जाएगी। पंचक के बावजूद मठ में भू समाधि की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।
महंत नरेंद्र गिरि के पार्थिव शरीर को सुबह ही मर्चरी पर पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया। शव वाहन पर रखे पार्थिव शरीर के पीछे बाघंबरी गद्दी मठ के शिष्यों अनुयायियों और संतों की गाड़ियों का काफिला भी चल रहा है।

Related Articles

Close