उत्तराखंडसिटी अपडेट

ऋषिकेश एम्स से किया पीएम मोदी ने कई राज्यों के ऑक्सीजन प्लांट का वर्चुअल लोकार्पण

उत्तराखण्ड ने उनके जीवन की बदली धाराःमोदी

मंच पर खड़े होकर मोदी ने धामी की पीठ थपथपाई

ऋषिकेश, 07अक्टूबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरूवार को ऋषिकेश एम्स से देश के अलग-अलग राज्यों के लिए 35 ऑक्सीजन प्लांट का वर्चुअल लोकार्पण किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड से उनके विशेष लगाव के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड ने उनकी जीवन की धारा बदल दी।
पीएम मोदी ने कहा कि जिस धरती ने उन्हें इतना कुछ दिया, वहां आना वो अपना सौभाग्य समझते हैं। हिमालय की धरती त्याग का रास्ता दिखाती है। यहां आकर उनका इरादा और दृढ़ हुआ है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें उत्तराखंड आकर और शक्ति मिलती है. पीएम ने योग और आयुर्वेद के लिए उत्तराखंड के योगदान को याद किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि जिस धरती से योग और आयुर्वेद दुनिया भर में फैला वहां से ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण करने से उन्हें बहुत खुशी हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगले कुछ वर्ष में उत्तराखंड अपने गठन के 25 साल वर्ष में प्रवेश करेगा। उत्तराखंड को 25 वर्ष होने वाले हैं। उत्तराखंड की तरक्की के लिए सबको जुड़ जाने का यही समय है।  केंद्र और राज्य सरकार साथ मिलकर यहां के लोगों के सपनों को साकार करेंगे। इसका बहुत बड़ा आधार है। डबल इंजन जो उत्तराखंड को नई ऊंचाई तक पहुंचाने वाला है। पीएम मोदी ने कहा कि बाबा केदार के आशीर्वाद से हम इन संकल्पों को पूरा करें। ऐसी मेरी आशा है। मंच पर खड़े होकर पीएम मोदी ने धामी की पीठ थपथपाई। अजय भट्ट को नमस्ते कर उसके बाद धन सिंह रावत को भी आशीर्वाद दिया और पीठ थपथपाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना का जैसे हमने सामना किया, दुनिया उसे बहुत ध्यान से देख रही है। उन्होंने कहा कि जिस तरह हम कोरोना से लड़े वो हमारी सामर्थ्य को दिखाता है। पीएम ने कहा कि आयातक से निर्यातक की यात्रा हमारी सफलता की कहानी खुद बयां कर रही है। दुनिया के सबसे बड़े और तेज टीकाकरण अभियान को हमने करके दिखाया।  ये हमारी संकल्प शक्ति और इच्छाशक्ति के साथ एकता का उदाहरण है। ऑक्सीजन की सप्लाई से लेकर वैक्सीन तक दोनों चुनौतियां देश के सामने आती रहीं। देश इनसे कैसे लड़ा ये जानना-समझना हर देशवासी के लिए जरूरी है। पीएम ने कहा कि सामान्य दिनों में हमारे देश में 900 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन का उत्पादन होता था। डिमांड बढ़ते ही हमने 10 गुना से ज्यादा बढ़ाया. ये दुनिया के किसी भी देश के लिए अकल्पनीय लक्ष्य था। लेकिन भारत ने इसे हासिल करके दिखाया। पीएम मोदी ने कहा कि ऑक्सीजन के प्रोडक्शन के साथ ही उसका ट्रांपोर्टेशन कितना चुनौतीपूर्ण होता है। इस चुनौती का भी हमने सफलतापूर्वक सामना किया। पीएम मोदी ने कहा कि लॉजिस्टिक की इतनी चुनौतियों से निपटने के लिए देश ने युद्ध स्तर पर काम किया। ऋषिकेश एम्स के कार्यक्रम में आने वाले विधानसभा चुनाव को भी प्रधानमंत्री मोदी ने बड़े सलीके से छुआ। प्रधानमंत्री ने जिक्र किया कि उत्तराखंड बनाने के लिए अटल बिहारी वाजपेई जी ने कदम उठाया था। प्रधानमंत्री मोदी ने अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ और हरिद्वार में बन रहे मेडिकल कॉलेज का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि केदारनाथ धाम में और विकास कार्य किए जा रहे हैं। श्रद्धालुओं को किसी तरह की कोई दिक्कत ना हो, उसके लिए भी सुविधाएं जुटाई जा रही हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा लगातार कर रहा हू। केदारनाथ के कामों को ड्रोन कैमरे से देख रहा हूं। इतना ही नहीं ऑल वेदर रोड जब बनकर तैयार हो जाएगी, तो देश दुनिया से आने वाले लोगों के लिए बड़ी सुविधा और सौगात होगी।

Related Articles

Close