उत्तराखंड

कूड़े के ढेर में मिली नवजात बच्ची, आस्था की नगरी पिरान कलियर का मामला

रुड़की। कचरे के ढेर से नवजात बच्ची के मिलने से हरिद्वार एक बार फिर शर्मसार हुआ है। घटना मंगलवार देर रात की है जब हरिद्वार से चंद किलोमीटर दूर कलियर में कचरे के ढेर में एक नवजात बच्ची मिली है। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया है । फिलहाल बच्ची के माता-पिता की तलाश की जा रही है।
कलियर थाना प्रभारी धर्मेंद्र राठी ने बताया कि बच्ची के परिजनों की तलाश कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। वहीं बच्ची को गोद लेने के लिए भी कई लोग सामने आए लेकिन क्योंकि बच्ची को इलाज की जरूरत थी इसलिए बच्ची को अस्पताल भेजा गया। उन्होंने कहा कि गोद लेने की प्रक्रिया एक कानूनी प्रक्रिया है और सबसे पहले बच्ची के माता-पिता को तलाशने की जिम्मेदारी है। उसके बाद जो भी कानून कहेगा बच्ची का उसी के सुपुर्द किया जाएगा।
कुछ माह पहले हरिद्वार के रानीपुर थाना क्षेत्र में भेल आवासीय कॉलोनी के पास जंगल से नवजात बच्ची मिली थी।बच्ची के माता-पिता का आज तक पता नहीं चल पाया। बच्ची स्वस्थ थी जिसके बाद उसे बाल कल्याण समिति के माध्यम से बच्चों के आश्रम में भेज दिया गया था।

Related Articles

Close