आत्महत्याउत्तराखंड

जंगल में पेड़ से लटकता मिला सेनेटरी इंस्पेक्टर का शव , 7 दिन से बताया जा रहा लापता

विकासनगर। चकराता कैंट में तैनात सेनेटरी इंस्पेक्टर सुरेश सिंह जयाड़ा का शव टीमली के जंगल में संदिग्ध परिस्थितियों पेड़ से लटकता मिला है। सुरेश सिंह जयाड़ा 24 नवंबर से लापता थे। जिसके बाद से परिजन लगातार उनकी खोजबीन में थे। सर्विलांस में सुरेश के मोबाइल का अंतिम लोकेशन टीमली के जंगल में मिली थी। जिसके बाद विकासनगर पुलिस जंगल में लगातार उनकी तलाश कर रही थी।
इसी दौरान एक दिसंबर को पुलिस को उनका शव रस्सी के सहारे एक पेड़ से लटकता मिला। सुरेश सिंह उत्तरकाशी के बड़कोट निवासी थे और 24 नवंबर से लापता चल रहे थे। छावनी परिषद चकराता में तैनात संदीप जोशी ने चकराता थाने में तहरीर देकर बताया कि छावनी परिषद में तैनात सेनेटरी इंस्पेक्टर सुरेश सिंह जयाड़ा पुत्र गोपाल सिंह हाल निवासी कैंट क्वार्टर छावनी परिषद चकरता बुधवार 24 नवंबर को साढ़े बजे गेट नंबर एक पर तैनात थे। लेकिन साढ़े नौ बजे के बाद वह अचानक गायब हो गए।
काफी खोजबीन के बाद भी उनका कहीं कोई पता नहीं चल पाया। बताया जा रहा है कि दोपहर तीन बजे छावनी परिषद कार्यालय के अधीक्षक अमित साहू के मोबाइल नंबर पर एक मैसेज भी आया। लेकिन जिस नंबर से मैसेज आया, वह नंबर मैसेज भेजने के बाद बंद हो गया। इसके बाद पुलिस ने लापता सेनेटरी इंस्पेक्टर की तलाश शुरू कर दी थी।

Related Articles

Close