उत्तराखंडप्रशासनिक खबरें

जनरल बिपिन रावत के नाम से जाना जाएगा हरिद्वार नगर निगम का स्मृति द्वार

हरिद्वार। तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलिकॉप्टर दुर्घटना में शहीद हुए देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत  के निधन से पूरे देश और उत्तराखंड में शोक की लहर है। देशभर में लोग बिपिन रावत को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं। हरिद्वार नगर निगम मेयर अनिता शर्मा  ने निगम के मुख्य द्वार का नाम सीडीएस जनरल बिपिन रावत स्मृति द्वार रखने की घोषणा की है।
हरिद्वार नगर निगम मेयर अनीता शर्मा ने घोषणा की कि निगम के मुख्य द्वार को अब बिपिन रावत स्मृति द्वार के नाम से जाना जाएगा। उन्होंने कहा कि बिपिन रावत उत्तराखंड के वीर सपूत थे। उनके निधन के बाद उनके नाम पर प्रदेश में शहीद स्मारक, सड़क, स्कूल आदि बनाए जाने की मांग हो रही है। इन सबके बीच हरिद्वार नगर निगम की मेयर अनिता शर्मा ने निगम के मुख्य द्वार का नाम उनके नाम पर रखने की घोषणा कर दी है।

फोटो डी 6
बीडीसी बैठक में नदारद रहे उच्चाधिकारी, प्रतिनिधियों ने जमकर किया हंगामा
हल्द्वानी। शुक्रवार को हल्द्वानी में बीडीसी की बैठक  हुई, लेकिन यह बैठक हंगामे की भेंट चढ़ गया है। जनप्रतिनिधियों ने उच्चाधिकारी बैठक में ना पहुंचने पर जमकर नारेबाजी की। इतना ही नहीं नाराज जनप्रतिनिधियों ने बैठक  बहिष्कार तक कर दिया।
दरअसल, हल्द्वानी ब्लॉक के बीडीसी बैठक साल 2019 के बाद आज यानी 10 दिसंबर को आहूत  की गई। जनप्रतिनिधियों ने आरोप लगाया कि कई विभागों के अधिकारी बीडीसी की बैठक में नहीं पहुंचे। साथ ही कहा कि नैनीताल डीएम भी बैठक में नहीं पहुंचे। जिस पर बीडीसी मेंबर और ग्राम प्रधानों ने अधिकारियों और डीएम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.हीं, बीडीसी बैठक शुरू होते ही हंगामा  शुरू हो गया। हंगामे के दौरान बीडीओ, जिला पंचायत उपाध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख ने जनप्रतिनिधियों को समझाने की लाख कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने। इतना ही नहीं ग्राम प्रधान और बीडीसी मेंबर ने नारेबाजी कर बैठक का पूर्ण रूप से बहिष्कार  कर दिया। नाराज जनप्रतिनिधियों का कहना है कि नैनीताल डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल  समेत वन विभाग, खनन विभाग और लोक निर्माण विभाग के अधिकारी नदारद रहे। ऐसे में समस्याएं और मुद्दे किसके समक्ष रखें। उन्होंने साफ ऐलान कर दिया कि जब तक सभी विभागीय अधिकारी बैठक में नहीं पहुंचेंगे, तब तक ग्राम प्रधान बैठक में नहीं जाएंगे।

Related Articles

Close