उत्तराखंडपर्यावरण

मौसम 2 फरवरी से फिर बदलेगा करवट, बारिश व बर्फबारी की संभावना

देहरादून। उत्तराखंड में एक बार फिर ठंड का मौसम करवट लेने जा रहा है और पहाड़ों में हालात ज़्यादा मुश्किल होने वाले हैं। मौसम विभाग की मानें तो 5 फरवरी तक मौसम प्रतिकूल रह सकता है। इसलिए यहां चुनाव प्रचार भी ठंडा रहने के आसार हैं। हालांकि अब भी बर्फबारी और कड़ाके की ठंड के बीच राजनीतिक पार्टियां चुनाव प्रचार में डटी हुई हैं। अगले दो दिन बर्फबारी और बारिश की संभावना जताई जा रही है, तो कहीं कहीं ओलावृष्टि की भी. 5 फरवरी तक ऐसा ही मौसम रहने और मैदानों में बारिश भी होने से राज्य भर में पारा गिरने के आसार भी बढ़ गए हैं।
मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक राज्य में 2 फरवरी को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है। इसके चलते ऊंचाई वाले हिस्सों में बर्फ गिरेगी तो नीचे के हिस्सों में पानी बरसेगा. ज़ाहिर है कि इससे तापमान में गिरावट आएगी। मैदानी इलाकों में 3 और 4 फरवरी को बारिश की भी संभावना है और कहीं कहीं ओले भी गिर सकते हैं। 2 फरवरी को जहां चमोली, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग व बागेश्वर में बर्फ और बारिश के आसार हैं, तो 3 फरवरी को देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, नैनीताल, उधमसिंह नगर के इलाकों में ओले के साथ बारिश हो सकती है। 4 और 5 फरवरी को कुमाऊं के पांच ज़िले बारिश, ओले से प्रभावित रहेंगे। मौसम विभाग के हवाले से खबरों में कहा जा रहा है कि इस बार उत्तराखंड में ठंड ज़्यादा पड़ रही है। पहाड़ों में बर्फबारी से जहां आम जनजीवन अस्त व्यस्त है, तो मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ने से कोहरा और धुंध देखी जा रही है। पिछले दिनों ही बर्फबारी के बाद एक बार फिर राज्य में बर्फ गिरने से पर्यटकों के लिए सुहाने दृश्य बन सकते हैं, लेकिन यातायात भी प्रभावित हो सकता है।

Related Articles

Close