अंतर्राष्ट्रीयउत्तराखंड

यूक्रेन में एमबीबीएस कर रहे पारस व अदिति को लेकर परिजन चिंतित

टिहरी। यूक्रेन की राजधानी कीव में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे पारस रौतेला के वहां फंस जाने से उनके पिता मान सिंह रौतेला और माता प्रतिमा काफी परेशान हैं। सुबह ही उनके अपने बेटे से व्हाट्सएप पर वीडियो काल से बात हुई। उन्होंने अपने पुत्र से सुरक्षित रहने की अपील करते हुये कहा कि जल्द ही उन्हें भारत लाने के लिए प्रयास तेज कर रहे हैं। माता-पिता ने स्थानीय प्रशासन को भी इसकी जानकारी दी है।
टिहरी जिले के प्रतापनगर विधानसभा के ग्राम तुनियार के रहने वाले व हाल निवासी नई टिहरी बौराड़ी मान सिंह रौतेला के पुत्र पारस रौतेला के यूक्रेन के कीव में फंसने से परिजन बेहद चिंतत हैं। वे और उनकी पत्नी प्रतिमा रौतेला अपने बेटे की सलामती की दुआ ईश्वर से करते हुए भारत सरकार से अपने बेटे की वापसी की गुहार लगा रहे हैं। परिजनों के मुताबिक उनके अपने दो बच्चों में से पारस रौतेला वर्ष 2021 से यूक्रेन की राजधानी कीव में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है, जबकि बेटी उन्हीं के साथ बौराड़ी में रह रही है। पिता मान सिंह रौतेला और मां प्रतिमा रौतेला का कहना है कि उनकी अपने बेटे से निरंतर बातचीत हो रही है, मगर युद्ध के खराब हालातों को देखते हुए उनके बेटे के साथ-साथ उनकी भी चिंताएं बेहद बढ़ गई हैं, परिजनों ने भारत सरकार से अपने बेटे की सुरक्षित वापसी की गुहार लगाई है। उन्हें उम्मीद है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूक्रेन में फंसे उनके बेटे सहित सभी भारतीयों को जल्द स्वदेश लायेंगे। जिला प्रशासन को भी उन्होंने इसकी विधितव जानकारी दी है। डीएम टिहरी इवा श्रीवास्तव का कहना है कि यूक्रेन में फंसे सभी लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है, ताकि विदेश मंत्रालय के मदद से त्वरित कार्यवाही की जा सके।

Related Articles

Close