उत्तराखंडशहर में खास

चार दिन बाद भी नही लगा लापता बीवी और बच्चे का सुराग,मजदूर दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर

ऋषिकेश। चंद्रेश्वर नगर में निवास करने वाले एक मजदूर की पत्नी शिवरात्रि के दिन से अपने बच्चे के संग घर से गायब हो गयी। जिसकी सूचना मजदूर ने पुलिस को दी थी। मजदूर का आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में अबतक कोई ठोस कार्यवाही नही की। जिसके चलते मजदूर अपनी पत्नी और बच्वे की तलाश के लिए दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर है।
जानकारी के अनुसर चंद्रेश्वर नगर स्थित   मजदूरी करने वाला रेनू देवी पत्नी विश्वास कुशवाह निवासी चंद्रेश्वर नगर गली नंबर 5 पर रहता है। 1 मार्च शिवरात्रि के दिन विश्वास कुशवाह अपनी पत्नी रेनू से यह कह कर गया कि वाह लक्ष्मण झूला जा रहा है। ठेकेदार से पैसे लेने विश्वास कुशवाह 1 मार्च को जब लक्ष्मण झूला गया। वहां से वापस पैसा लेकर अपने घर पहुंचा उसने देखा कि उसके कमरे पर ताला लगा हुआ है। उसने अपने आसपास के पड़ोसियों से पूछा कि मेरी पत्नी कहां गई । पड़ोसियों द्वारा बताया गया गंगाघाट  की तरफ गई  है। विश्वास कुशवाह दयानंद घाट अन्य कई जगह ढूंढने पर भी पत्नी व उसकी ढाई वर्ष की बच्ची नहीं मिली। विश्वास कुशवाह ने बताया कि उन्होंने त्रिवेणी घाट स्थित पुलिस चौकी पर तहरीर दे रखी है। 4 दिन हो गए हैं पत्नी व बच्ची को गायब हुए अभी तक कुछ पता नहीं चला कि वह कहां गए घाट पुलिस चौकी द्वारा सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। विश्वास कुशवाह अपनी पत्नी व ढाई वर्ष के बच्ची के लिए मारा मारा फिर रहा है। अब देखना यह है कि पुलिस विश्वास कुशवाहा की पत्नी व ढाई वर्ष की बच्ची को खोज निकालने  में कितना सफल होती, यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

 

Related Articles

Close