उत्तराखंडचुनावी दंगल

चंपावत उपचुनाव में सीएम धामी की 55,025 वोटों से धमाकेदार जीत

कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी की जमानत जब्त, पीएम मोदी ने दी बधाई

चंपावत। जैसी की उम्मीद थी चंपावत उपचुनाव का परिणाम भी उसी के अनुरूप आया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कांग्रेस की उम्मीदवार निर्मला गहतोड़ी को करारी शिकस्त दी है। सीएम धामी ने निर्मला गहतोड़ी को 55,025 वोट से हरा दिया। निर्मला अपनी जमानत भी नहीं बचा सकीं। चंपावत उपचुनाव में कुल 61,771 वोट पड़े थे। 13 वें राउंड तक 61 हजार से ज्यादा वोट गिने जा चुके थे। उसके बाद पोस्टल बैलेट गिने गए। पोस्टल बैलेट की गिनती से पहले ही सीएम धामी ने अपराजेय बढ़त बना ली थी। आखिर में वो 55,025 से विजय हासिल करने में कामयाब रहे। इसके साथ ही सीएम धामी ने पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के उपचुनाव में जीत का वोटों का रिकॉर्ड भी तोड़ा।
आइए आपको 13 राउंड की काउंटिंग का एक-एक लम्हा बताते हैं कि कैसे पहले राउंड से ही सीएम धामी भारी-भरकम बढ़त के साथ जीत की तरफ बढ़ते चले गए। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को कैसे पहले राउंड से ही अपनी बुरी हार का अंदेशा हो गया था।
शुक्रवार सुबह 8.28 बजे जैसे ही पहले राउंड की गिनती पूरी हुई, ये संकेत मिल गया था कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी इस उपचुनाव को रिकॉर्ड अंतर से जीतने जा रहे हैं। पहले राउंड में सीएम धामी को 3,856 वोट मिले। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को सिर्फ 165 मत मिल सके थे। इस तरह मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पहले राउंड में ही 3691 वोट की बढ़त हासिल कर ली थी।
दूसरे राउंड की मतगणना सुबह 8 बजकर 42 मिनट पर पूरी हुई। दूसरे राउंड में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को कुल 7,435 वोट पड़े। वहीं कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को सिर्फ 312 वोट मिले। इस तरह दूसरे राउंड की समाप्ति पर सीएम धामी की कुल बढ़त 7,123 पहुंच गई थी।
तीसरे राउंड तक सीएम धामी की बढ़त 10,617 वोट पहुंच गई थी। तीसरे राउंड की गिनती में सीएम धामी ने अपनी बढ़त और ज्यादा कर लिया था। सीएम धामी 10,617 वोट से आगे चल रहे थे।
चौथे राउंड में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपनी बढ़त को विशाल कर दिया था। चौथे राउंड के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को 13,215 वोट पड़े। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को सिर्फ 442 वोट ही पड़े। 61 वोट नोटा को भी पड़े। इस तरह चौथे राउंड की समाप्ति तक मुख्यमंत्री धामी ने बढ़त 12,773 पहुंचा दी थी।
पांचवां राउंड सुबह 8. 58 मिनट पर संपन्न हुआ। पांचवें राउंड में सीएम धामी को कुल 17,904 वोट मिले। वहीं उनकी प्रतिद्वंदी कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को 804 वोट मिले। सपा के मनोज कुमार भट्ट को 172 और निर्दलीय हिमांशु गड़कोटी को 160 वोट मिले हैं। नोटा में 115 वोट पड़े हैं। पांचवें राउंड तक 19,155 वोटों की गिनती हो चुकी थी। पांचवें राउंड में सीएम धामी की बढ़त 17,101 वोट हो चुकी थी।
6 राउंड की मतगणना जब संपन्न हुई तो मुख्यमंत्री धामी को उसमें कुल 22,289 वोट मिले। कांग्रेस उम्मीदवार निर्मला गहतोड़ी को छठवें राउंड तक कुल वोट मिले थे 1,093। इस तरह छठवें राउंड की मतगणना पूरी होने तक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी से 21,196 वोटों की भारी भरकम बढ़त हासिल कर चुके थे।
सातवें राउंड की काउंटिंग सुबह 9 बजकर 18 मिनट पर संपन्न हुईं। सातवें राउंड के समापन पर सीएम धामी 23,943 वोट से आगे चल रहे थे। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को मिले सातवें राउंड तक 1,276 वोट मिले थे। वहीं सीएम धामी को सातवें राउंड तक 25,219 वोट मिले। सातवें राउंड की समाप्ति तक सपा के मनोज कुमार भट्ट को 232 वोट मिले। निर्दलीय प्रत्याशी हिमांशु गड़कोटी को 221 वोट मिले थे। नोटा में 160 वोट पड़े।
आठवें राउंड की काउंटिंग संपन्न होने पर सीएम धामी की बढ़त 28,364 पहुंच गई थी। आठवें राउंड तक भाजपा प्रत्याशी पुष्कर सिंह धामी को कुल 29,939 वोट मिले थे। उधर कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी को कुल 1,575 वोट मिले थे। सपा प्रत्याशी मनोज कुमार को 268 वोट मिले तो निर्दलीय प्रत्याशी हिमांशु गड़कोटी को 246 वोट मिले। आठवें राउंड की समाप्ति तक नोटा को 191 मत प्राप्त हुए थे।
नवें राउंड की काउंटिंग सुबह 9 बजकर 36 मिनट पर पूरी हुई। नवें राउंड तक सीएम धामी की बढ़त 33,966 हो गई थी। नवें राउंड तक सीएम धामी को 35,839 वोट मिल चुके थे। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को नवें राउंड तक 1,873 वोट ही मिले थे। इससे साफ हो गया था कि चंपावत उपचुनाव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बहुत बड़ी जीत की ओर बढ़ते जा रहे हैं।
चंपावत उपचुनाव में 10वें राउंड की काउंटिंग संपन्न होने पर सीएम पुष्कर सिंह धामी अपनी प्रतिद्वंदी निर्मला गहतोड़ी से 40,384 वोट से आगे निकल चुके थे। 10वें राउंड की काउंटिंग तक कुल 45,649 मतों की गिनती हो चुकी थी। सीएम धामी को 42,573 वोट मिल चुके थे। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को 2,189 वोट मिले थे। सपा के मनोज कुमार भट्ट को 324 वोट मिले जबकि निर्दलीय हिमांशु गड़कोटी को 313 वोट मिले थे। दसवें राउंड तक नोटा को 250 वोट मिले चुके थे।
चंपावत उपचुनाव के 10वें राउंड की काउंटिंग जब संपन्न हुई तो तब तक सीएम धामी पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के रिकॉर्ड को पार कर चुके थे। विजय बहुगुणा ने वर्ष 2007 में सितारगंज सीट पर हुए उपचुनाव में 39,900 मतों के अंतर से जीत दर्ज की थी। सीएम धामी ने 10वें राउंड तक 40,384 वोट से आगे निकल चुके थे।
12वें राउंड की मतगणना सुबह 10 बजकर 6 मिनट पर संपन्न हुई। इस समय तक 57,988 मतों की गिनती हो चुकी थी। जब 12वें राउंड की गिनती संपन्न हुई तो सीएम धामी को 54063 वोट मिल चुके थे। दूसरी तरफ उनके मुकाबले चुनाव मैदान में खड़ी कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी को सिर्फ 2,808 वोट ही मिले थे। इस तरह 12वें राउंड तक सीएम धामी की कुल बढ़त 51,255 वोट की हो चुकी थी।
सुबह 10 बजकर 14 मिनट पर ईवीएम में पड़े वोटों की 13वें और आखिरी राउंड की गिनती संपन्न हुई। आखिरी राउंड में 61,595 वोटों की गिनती संपन्न हो चुकी थी। इसमें से सीएम धामी को 57,268 वोट मिल चुके थे। कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को 3,147 वोट ही मिले थे। इस राउंड के अंत तक सपा को मनोज कुमार भट्ट को 409 और निर्दलीय हिमांशु गड़कोटी को 399 वोट मिले थे। इस तरह सीएम धामी ने 54,121 की अपराजेय बढ़त हासिल कर ली थी।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ईवीएम के वोटों की 13 राउंड तक हुई गिनती में ही अपराजेय बढ़त बना ली थी। 13वें राउंड के बाद पोस्टल बैलट की गिनती हुई थी इनका उनकी जीत पर असर नहीं पड़ना था बल्कि जीत का अंतर ही बढ़ना या घटना था। लेकिन जीत का अंतर बढ़ता गया। आखिर में सीएम धामी ने 55,025 वोट से जीत हासिल कर ली।

Related Articles

Close