उत्तराखंडशहीद

38 साल बाद घर पहुंचा शहीद का पार्थिव शरीर

हल्द्वानी। सेना के जवान लांस नायक चंद्रशेखर हरबोला का पार्थिव शरीर हल्द्वानी स्थित उनके आवास पर लाया गया। सेना के जवान, जिला प्रशासन और पुलिस के जवान चंद्रशेखर हरबोला के पार्थिव शरीर को लेकर पहुंचे। इस दौरान बड़ी में लोग मौजूद रहे. सीएम धामी ने भी शहीद के घर पहुंतकर उनके परिजनों से मुलाकात की. उन्होंने शहीद के नमन करते हुए श्रद्धांजिल अर्पित की।
हल्द्वानी निवासी लांस नायक चंद्रशेखर हरबोला का पार्थिव शरीर 38 साल बाद उनके आवास पहुंचा। जहां परिवार के लोग पार्थिव शरीर का अंतिम दर्शन कर रहे हैं। पार्थिव शरीर के घर में पहुंचते ही परिवार के लोगों की सिसकियां निकलने लगी। उनका पार्थिव शरीर हल्द्वानी के आर्मी ग्राउंड हेलीपैड पहुंचा। जहां से सड़क मार्ग से उनके पार्थिव को सरस्वती विहार धान मिल उनके आवास पर लाया गया। पार्थिव शरीर उनके आवास पर पहुंचते ही भारत माता की जयकारों से गूंज उठा। सीएम धामी भी शहीद चंद्रशेखर हरबोला के अंतिम दर्शन के लिए उनके घर पहुंचे। सीएम धामी ने इस दौरान उनके परिवार के मुलाकात भी की।.बता दें मूल रूप से अल्मोड़ा जिले के द्वाराहाट के हाथीगुर बिंता निवासी चंद्रशेखर हरबोला 19 कुमाऊं रेजीमेंट में लांसनायक थे। वह 1975 में सेना में भर्ती हुए थे। वे 38 साल पहले सियाचिन में शहीद हुए थे। भारत की ओर से मई 1984 में सियाचिन में पेट्रोलिंग के लिए 20 सैनिकों की टुकड़ी भेजी गई थी। इसमें लांसनायक चंद्रशेखर हरबोला भी शामिल थे। सभी सैनिक सियाचिन में ग्लेशियर टूटने की वजह से इसकी चपेट में आ गए. जिसके बाद किसी भी सैनिक के बचने की उम्मीद नहीं रही। भारत सरकार और सेना की ओर से सैनिकों को ढूंढने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इसमें 15 सैनिकों के पार्थिव शरीर मिल गए थे लेकिन पांच सैनिकों का पता नहीं चल सका था।

शहीद लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला को माहरा ने दी श्रद्धांजलि
देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष करन माहरा ने 38 साल पहले सियाचिन में शहीद हुए लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बाेला का पार्थिव शरीर के देवभूमि पहुंचने पर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।
शहीद चन्द्रशेखर हर्बाेला का पार्थिव शरीर हल्द्वानी पहुंचने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के निर्देश पर महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल ने पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र चढाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की तथा उनके परिजनों से मिलकर प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष ओर से संवेदना व्यक्त की।
अपने शोक संदेश में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि देश की सीमाओं की रक्षा के लिए शहीर चन्द्रशेखर हर्बाेला द्वारा दिया गया सर्वाेच्च बलिदान सदैव याद किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पूरा कांग्रेस परिवार इस दुःख की घडी में शहीद के परिजनों के साथ बराबर का सहभागी है। हम सब कांग्रेसजन शहीद की पवित्र आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते हैं। भगवान शहीद चन्द्रशेखर हर्बाेला जी की आत्मा को शांति प्रदान करें तथा शोकाकुल परिवार को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

Related Articles

Close