उत्तराखंडपुलिस डायरी

प्रेम विवाह करने पर धारदार हथियार से परिवर्तन पार्टी के नेता की हत्या

ससुरालियों पर हत्या का आरोप,सभी आरोपी गिरफ्तार
अल्मोड़ा। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के दलित नेता जगदीश चंद्र की हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि हाल ही में उन्होंने प्रेम विवाह किया था। किन्तु उनके ससुरालियों को यह सब रास नही आया था। जगदीश चंद्र पार्टी के टिकट पर दो बार सल्ट विधानसभा से चुनाव लड़ चुके हैं। क्षेत्र में उनकी छवि एक व्यावहारिक और दूसरों सुख दुख में साथ देने वाले के तौर पर थी। पुलिस ने हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने बताया कि पार्टी से जगदीश चंद्र दो बार विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं। वह प्लंबर का काम करते थे और क्षेत्र में काफी लोकप्रिय भी थे, उनकी छवि को देखते हुए पार्टी ने टिकट ने दिया था। दलित से विवाह की सूचना के बाद से लड़की के सौतेले परिजन उसके पति के जान के दुश्मन बने हुए थे।सल्ट के पनुवाधौखन निवासी जगदीश चंद्र पुत्र केश राम और भिकियासैंण निवासी गीता उर्फ गुड्डी ने बीते 21 अगस्त को गैराड़ मंदिर में प्रेम विवाह किया था। शादी से पहले गुड्डी अपने सौतेले पिता जोगा सिंह और सौतेले भाई गोविंद सिंह के साथ रहती थी। एक दलित से शादी करना उसके सौतेले भाई और पिता को रास नहीं आया और दोनों ने मिलकर जगदीश की हत्या कर दी।आरोप है कि गुरुवार को जगदीश के ससुराल वालों ने जगदीश चंद्र को भिकियासैंण में पकड़ लिया था। उसके बाद वह लोग जगदीश चंद्र का एक गाड़ी से अपहरण कर ले गए। उसके बाद बेरहमी से जगदीश की हत्या कर दी। सूचना पर पुलिस और राजस्व की टीम ने देर शाम गाड़ी से जगदीश का लहुलूहान शव बरामद कर लिया।एसएसपी प्रदीप कुमार राय ने बताया कि शव बरामद कर लिया गया है। हत्या करने वाले सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्या में प्रयुक्त हथियार अभी बरामद नहीं हो सका है हलांकि उन्होंने बताया कि किसी हथौड़ीनुमा हथियार के प्रहार से जगदीश की हत्या हुई है।

Related Articles

Close