धर्म-कर्मशहीद

शहीद के सम्मान में धारौली में रक्तदान शिविर 10 सितंबर को

झज्जर : मां-मातृभूमि सेवा समिति, वीरों की देवभूमि धारौली द्वारा 1965 भारत-पाक युद्ध में 6 सितंबर 1965 में देश की रक्षा के लिए लड़ते हुए अपने प्राणो की कुर्बानी देने वाले धारौली के अमर शहीद हवा सिंह लांबा  के सम्मान में 10 सितंबर 2022 को धारौली के दादा जोहड़ वाले भवन में सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक सातवां रक्तदान शिविर का आयोजन जिला रेड क्रॉस सोसाइटी, झज्जर के सहयोग से किया जायेगा ।

युद्धवीर सिंह लांबा, अध्यक्ष, मां-मातृभूमि सेवा समिति, वीरों की देवभूमि धारौली (9466676211) ने जानकारी देते हुये बताया कि रक्तदान जीवनदान है, हमारे द्वारा किया गया रक्तदान कई जिंदगियों को बचाता है। दुनिया में रक्त का दूसरा विकल्प नहीं है, रक्त की पूर्ति केवल रक्त से ही हो सकती है। हर स्वस्थ व्यक्ति को प्रत्येक तीन माह पर रक्तदान करना चाहिए। रक्त से बड़ा कोई दान नहीं होता। ऐसे पुनीत कार्यों में हमेशा आगे रहना चाहिए। रक्तदान से दूसरे की जिंदगी बचाई जा सकती है। इसका अहसास हमें तब होता है जब अपना कोई जिंदगी और मौत से जूझ रहा होता है।

Related Articles

Close