उत्तराखंडसनसनी

निर्माणाधीन मकान में मिला नरकंकाल, मचा हड़कंप

हरिद्वार। बहादराबाद थाना क्षेत्र के एक निर्माणाधीन भवन में एक नरकंकाल फंदे से लटका मिला, जिसके बाद से क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है। सूचना पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस से मिली जानकारी अनुसार आज सुबह करीब 11रू30 बजे एक व्यक्ति ने सूचना दी कि हाईवे स्थित कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के बगल में एक निर्माणाधीन भवन है। जिसकी पहली मंजिल पर एक सर कटी लाश पड़ी हुई है।
निर्माणाधीन भवन में सर कटी लाश मिलने की सूचना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। तत्काल मौके पर थानाध्यक्ष बहादराबाद नितेश शर्मा पहुंचे। उन्होंने जब घटनास्थल का जायजा लिया तो पता चला कि वहां सिर कटी लाश नहीं, बल्कि किसी व्यक्ति ने आत्महत्या की है। शव कुछ महीने पुराना हो चुका था, इसीलिए फंदा से लगा सिर शरीर से अलग हो गया था। शव बुरी तरह से सड़ चुका है। जिस कारण उसकी फिलहाल पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस ने निर्माणाधीन भवन मालिक को मौके पर बुलाया है।
थानाध्यक्ष नितेश शर्मा ने कहा मृतक की पहचान नहीं हो पाई है। मौके पर शव का पंचनामा भरा जा रहा है। जिसके बाद उसके शव को सुरक्षित रखवाया जाएगा। साथ ही पुलिस इस बात का भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर कुछ समय पहले तक यहां पर कौन लोग काम किया करते थे? क्या उनमें से क्या कोई आदमी लापता है।
सीओ बहादराबाद निहारिका सेमवाल ने कहा स्थानीयों ने बहादराबाद थाने को सूचना दी कि कोर कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के पास एक निर्माणाधीन भवन में एक लाश पड़ी हुई। शव की हालत देख लग रहा है कि करीब 2 से 3 महीने पुराना है। एफएसएल टीम के साथ डीएनए जांच से इसके बारे पता लग सकता है। प्रथम दृष्टया यह मामला फंदा लगाने का लग रहा है। क्योंकि जिस जगह पर यह शव मिला है, वहां पर एक फंदा भी लटका हुआ है। यह शव किसी पुरुष का है, लेकिन इसकी शिनाख्त नहीं हो पा रही है। क्योंकि अब वह कंकाल बन चुका है।
नर कंकाल को सबसे पहले कबाड़ी वाले आशीष ने देखा था। आशीष का कहना है कि वह यहां पर कबाड़ चुगने आया था। जब ऊपर आया तो यहां पर एक लाश पड़ी हुई थी, जिसके बाद तत्काल मैंने इसकी सूचना पुलिस को दी।बता दें कि बीते सोमवार को भी हरिद्वार के भूपतवाला क्षेत्र में भारतीय दूरसंचार विभाग के एक बंद पड़े भवन में सफाई के दौरान एक नरकंकाल मिला था। मौके पर मौजूद लोगों ने तत्काल मामले की सूचना खड़खड़ी चौकी इंचार्ज विजेंद्र कुमार को दी। पुलिस ने बिखरे पड़े कंकाल की हड्डियों को एकत्र कराया। पुलिस ने तत्काल उसका पंचनामा भरा और कंकाल को सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Related Articles

Close