उत्तराखंडपुलिस डायरी

हथियार बनाने की फैक्ट्री पकड़ी, दो गिरफ्तार

6 सेमीऑटोमैटिक पिस्टल, तंमचे, कारतूस, मैगजीन, व हथियार बनाने के उपकरण बरामद

देहरादून। एसटीएफ व बाजपुर पुलिस ने संयुक्त आपरेशन चलाते हुए एक हथियार बनाने की फैक्ट्री पकडी जहां से 6 सेमीऑटोमैटिक पिस्टल, तंमचे, कारतूस, मैगजीन, निर्मित व अर्धनिर्मित हथियार व हथियार बनाने के भारी उपकरण बरामद किये गये तथा फैक्ट्री चलाने वाले दो लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।
आज यहां इसकी जानकारी देते हुए एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा बताया गया कि उत्तराखंड एसटीएफ को जनपद उधमसिंह नगर में हथियारों की एक बड़ी फैक्ट्री संचालित होने गोपनीय सूचना काफी समय से मिल रही थी। जिस पर उनके द्वारा एसटीएफ की कुमाऊं यूनिट को लगाया गया था। जिनके द्वारा हथियारों की फैक्ट्री संचालित होने के इस गोपनीय इनपुट पर पिछले दो माह से काम किया जा रहा था, इस सम्बन्ध में गत रात्रि एसटीएफ को एक आर्म्स डीलर के बाजपुर काशीपुर आने की सूचना मिली जिस पर टीम द्वारा स्थानीय पुलिस की मदद से उसे एक तंमचे के साथ ढेला पुल के पास गिरफ्तार किया गया। जिसने पूछताछ में बाजपुर में एक मकान में हथियारों की फैक्ट्री चलने की बात बताई जिस पर टीम द्वारा उस मकान को घेरकर दबिश दी गयी तो उसके अन्दर हथियारों की एक बड़ी फैक्ट्री चलती पायी गयी। जहां से 6 सेमीऑटोमैटिक पिस्टल, तंमचे 30, कारतूस 25 मैगजीन व हथियार बनाने के भारी उपकरण भटृी, नाल-2, स्प्रिग-73, पेंच-32, ट्रेगर-48, कमानी- 8, कारतूस 25 कारतूस, व अन्य उपकरण जो कि अवैध असलाह बनाने में प्रयोग किये जाते हैं बरामद किये। पूछताछ में गिरफ्तार तस्करों ने बताया कि वे पिछले 2 वर्ष से यहाँ पर हथियारों की फैक्ट्री चला रहे थे किसी को कानोंकृकान खबर भी नही हो पायी थी वे हथियार बनाकर यहाँ से यूपी, हरियाणा, दिल्ली व उत्तराखण्ड के विभिन्न हिस्सों में सप्लाई करते थे। पूछताछ में उन्होंने अपने नाम गुच्चन पुत्र शब्बीर निवासी लालपुर बीबी, टांडा बदली, जिला रामपुर उत्तर प्रदेश, शाहिद उर्फ पप्पी पुत्र मौहम्मद ताहिर, निवासी नगीना जिला बिजनौर बताये। पकड़े गये आरोपियों से पूछताछ में एसटीएफ टीम को अवैध हथियारों की तस्करी के सम्बन्ध में कई महत्वपूर्ण जानकारियां हाथ लगी हैं जिसके आधार पर एसटीएफ आगे कार्यवाही करेगी, गिरफ्तार तस्कर के विरुद्ध थाना कुंडा, जनपद ऊधम सिंह नगर में समुचित धाराओं में अभियोग पंजीकृत कराया गया है। एसएसपी एसटीएफ ने पुलिस टीम को दस हजार रूपये ईनाम की घोषणा की।

Related Articles

Close