उत्तराखंड

अब तक नही पीने योग्य बन पाया सुसवा नदी का पानी

देहरादून। मुख्यमंत्री की घोषणाओं को अधिकारी कितनी गंभीरता से लेते है, इसका एक उदाहरण डोईवाला में देखने को मिल रहा है। कुछ समय पहले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने डोईवाला के कार्यक्रम में घोषणा की थी कि जल्द ही सूसुआ नदी के पानी को ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर पीने योग्य बनाया जाएगा। लेकिन आपको जानकार ताज्जुब होगा जिस नदी के पानी को सीएम पीने योग्य बनाने की बात कर रहे थे, आज वह नदी सीवर में तब्दील हो चुकी है।
स्थानीय लोग बताते हैं कि कभी सूसुआ नदी का पानी पीने की काम में लाया जाता था. लेकिन अब ये नदी धीरे-धीरे सीवर में तब्दील हो गई है। देहरादून की सारी गंदगी और सीवर का पानी इस नदी में डाले जाने के बाद यह दूषित हो गया है। ग्रामीणों में गुस्सा इस बात को लेकर है कि डोईवाला विधानसभा मुख्यमंत्री का क्षेत्र है। बावजूद इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने खुद घोषणा की थी कि जल्द ही सूसुआ नदी का पानी पीने योग्य बनाया जाएगा। लेकिन अभीतक इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि इस दूषित पानी से उनकी फसलें खराब हो रही हैं। जीव-जंतु नदी का पानी पीने से बीमार हो रहे हैं. ग्रामीणों को भी त्वचा रोग हो रहा है, बावजूद इसके अधिकारी लापरवाह बने हुए हैं।

Related Articles

Close