उत्तर प्रदेश

किक्रेटर से योगी बनाने की कहानी उत्तम अग्रहरि के साथ

 

जौनपुर 23 जून शाहगंज जौनपुर के रहने वाले उत्तम अग्रहरि पिता स्व : मिथिलेश कुमार बचपन से किक्रेटर बनाना चाहते थे इलाहाबाद के यंगोलो बंगाली स्टेडियम में किक्रेट की कोचिंग लेते थे उत्तम जी को न्यूज आरटिकल लिखना का बहुत शौक था और वे न्यूज पेपर मे आरटिकल देते थे । पिता के न होने की वजह तथा घर की स्थिति सहि न होने की वजह से उत्तम के खेल मे अवरोध आ गया लेकिन कहते हैं जिनके हौसले बुलंद हो ते हैं स्थिति भी उन का गुलाम होता है । इस कडी मे उत्तम को एक दिन न्यूज पेपर मे पंतजलि विश्व विधालय का विज्ञापन देखा तब इन.के मन मे विचार आया ।कि पतंजलि के पास बहुत पैसा और पावर हैं शायद मैच मे कुछ हो जाये तब उत्तम हरिद्वार जाने का निर्णय लिया 4 जुलाई 2017 को उत्तम का पेपर था प्रवेश के लिए लेकिन ट्रेन लेट होने की वजह से पेपर छूट गया फिर PVC को प्रारथना पत्र लिखकर सब चीज बताया फिर पुना पेपर देकर प्रवेश हुआ लेकिन जिस उम्मीद से उत्तम जी हरिद्वार गये थे । उस के विलोम सब हुआ उत्तम की लगान इतना था कि 6 माह का कोर्स को तीन माह मे पूरा कर विश्वविद्यालय योग प्रतियोगिता मे इन का चयन हुआ । फीर यह से इन का sarva yoga company मे चयन होगा जिसके लिये इन.को चेन्नई जाना था। 1 साल योगा कक्षा मुम्बई, चेन्नई , बैंगलोर , मे सीखा या इसके के अतिरिक्त सरकारी स्कूल , गांव , विधालय ,संसथान मे उत्तम ने निशुल्क योग कक्षा दे रहें है । 21 साल कि आयु मे उत्तम ने लगभग 15 हजार योग साधक को योग कक्षा दिया है निशुल्क ।
आज उत्तम अग्रहरि इस योग के द्वारा विश्व रिकॉर्ड मे अपना नाम दर्ज करा रहे है
जिसमे world young achievers of records अधिक लोगों ने एक साथ 5 मिनट 5 सेकंड , 5.आसन का रिकॉर्ड 19/05/2019 को दर्ज किया है ।
21 /06/2019 को 800 लोगों ने एक साथ 108 सूर्य नमस्कार कर रिकॉर्ड बनायें है जिसमें मे उत्तम जी का भी नाम दर्ज हैं
👍.(##@@ इस योग दिवस मे 2 घंटे 2 मिनट मे ताडासन मे golden book of world record मे नाम दर्ज कर लिया है।
उत्तम का कहना है ये तो अभि शुरुआत हैं आगे आगे अभि देख क्या होता है । उत्तम जी 1 मिनट मे 100 मीटर हाथों के बल चल कर चीन का रिकॉर्ड तोडकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मे नाम दर्ज कराये गे ।
उत्तम ने बताया कि विश्व के सभी रिकॉर्ड बुक मे वे अपना नाम दर्ज कराना चाहते हैं
इनके द्वारा आनलाइन तथा आफलाइन योगा देहरादून , दिल्ली , चेन्नई , बैगलोर , मुम्बई , मलेशिया, अमेरिका जैसे जगह पर कक्षा देते हैं ।
सामाजिक कार्यों मे भी बहुत ही आगे हैं इनके गांव के बच्चे 4 बजे योग कक्षा के लिये आ जाते है और सभी को नमस्कार और चरण स्पर्श कर अपने गुरु उत्तम के साथ शुरू करते है ।

इस योग दिवस मे घर पर रहकर योग कैसे करे । इस महामारी मे आप दूरी बना कर रखें , घर से निकलते समय मास्क का उपयोग करें प्रतिदिन योग करें।
इम्यूनिटि बढाने के लिए योगासन
1- सूर्य नमस्कार , पवनमुक्तासन ,मंडूकासन ,उत्तानपादासन , वक्रासन , मरकटासन , भुजंगासन ,शवासन
प्राणायाम –
1- अनुलोम-विलोम , भसि्त्रका , कपालभाति , भ्रामरी , शीतली
काढा-
1- गिलोय, तुलसी ,हल्दी , काली मिर्च ,अदरक ,अश्वगंधा , आवला , सफेद मूसली , शंतावर , शीलाजीत
फल –
सेब , संतरा , अंगुर , केला , आंडू , किवी , पपीता
सब्जी – लहसुन , नींबू ,शकरकंद, ग्रीन टी , आलसी, पालक , दही, खट्टे फल, लाल शिमला मिर्च , ब्रोकली, बादाम इत्यादि।
इस योग दिवस अपने घर पर रहकर योग करें और सुरक्षित और स्वस्थ रहे।

Related Articles

Close