उत्तराखंड

उत्तराखंड के लोक कलाकारों की सुध ले सरकार : डॉ राजे नेगी

संस्कृति विभाग से सभी कलाकारों को एक सम्मानजनक आर्थिक सहयोग राशि प्रदान करें

ऋषिकेश, 27 जून। गढ़वाल महासभा द्वारा देहरादून रोड स्थित प्रदेश कार्यालय मैं एक बैठक महासभा के अध्यक्ष प्रदेशाध्यक्ष डॉ राजे नेगी की अध्यक्षता में आहूत की गई। बैठक में उपस्तिथ उत्तराखंड के लोक गायको द्वारा राज्य सरकार एवं संस्कृति विभाग से सभी कलाकारों को एक सम्मानजनक आर्थिक सहयोग राशि प्रदान किये जाने को लेकर चर्चा की गई। इस मौके पर लोक गायक धूम सिंह रावत ने कहा कि पिछले चार माह से लगातार राज्य के सभी लोक कलाकार लॉक डाउन के चलते बेरोजगारी के कारण आर्थिक तंगी का शिकार हो चुके हैं ऐसे में उनकी संस्कृति विभाग से सर्वप्रथम यही गुजारिश है कि विभाग में पंजीकृत सभी कलाकारों की बकाया राशि का भुगतान उन्हें तत्काल प्रभाव से कर दिया जाए। उत्तराखंडी एलबमो के निर्माता एवं निर्देशक रज्जी गुसाईं ने कहा कि संस्कृति विभाग द्वारा लोक कलाकारों को आर्थिक सहयोग के रूप में मात्र ₹1000 की धनराशि देने की बात राज्य सरकार द्वारा कही गई है जो कि ना काफी है पिछले 4 माह से सभी कलाकारों की बेरोजगारी होने के कारण उनके परिवार जनों को भी आर्थिक संकट से जूझना पड़ रहा है सरकार को चाहिए कि वह सभी कलाकारों को उचित मानदेय आर्थिक रूप से प्रदान करने की कृपा करें, लोक गायक एवं समाजसेवी कमल जोशी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान भी लोक कलाकारों ने कोरोना वॉरियर्स के रूप में अपने-अपने क्षेत्रों में पीड़ित लोगों की मदद करने से पीछे नहीं रहे लेकिन अब उनके हालात भी दिन प्रतिदिन आर्थिक रूप से खराब होते जा रहे हैं जिसके लिए उनको राज्य सरकार से आर्थिक सहयोग की आवश्यकता पड़ रही है सरकार को चाहिए कि सभी लोग कलाकारों को जो की संस्कृति विभाग में पंजीकृत हैं एवं जो पंजीकृत नहीं है उनका भी तत्काल पंजीकरण कर एकमुश्त रकम उनको प्रदान की जाए जिससे उनके परिवार के पालन पोषण मैं उनको सहयोग मिल सके।महासभा के प्रदेशाध्यक्ष डॉ राजे नेगी ने सभी कलाकारों को उनके परिवार जनों के भरण पोषण हेतु सम्मानजनक आर्थिक धनराशि दिए जाने की अपील राज्य सरकार से की। इस मौके पर लोक गायक राकेश गुसाईं, कृष्णा कोठारी, उत्तम सिंह असवाल, मनोज नेगी, प्रमोद असवाल उपस्तिथ थे।

Related Articles

Close