उत्तराखंड

नियम कायदे कानून आमजन के लिए, माननीय के लिए नहीं : जयेंद्र रमोला

आमजन कानून तोड़े तो मुकदमा दर्ज, माननीय बाइज्जत बरी

ऋषिकेश, 12 जुलाई। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेंद्र रमोला ने कहा कि जहाँ एक ओर केंद्र सरकार कोविड वैश्विक महामारी से निपटने के लिए अलग क़ानून बनाकर उसका सख्ती से पालन कराने पर प्रशासन को निर्देशित कर रही है वहीं दूसरी ओर प्रदेश के सत्ता पक्षीय माननीय नेता केन्द्र सरकार के आदेशों को ठेंगा दिखाते हुऐ क़ानून के नियमों की धज्जियाँ उड़ा रहे हैं, उसी तरह जहां एक ओर पानी की क़िल्लत से परेशान लोग जब अपनी बात रखने जाते हैं तो उनपर वहॉं मुक़दमा दर्ज हो जाता है, बाज़ार में व्यापारी अपनी दुकान में अकेला भी बैठा हुआ है और उसका मास्क अगर नाक के नीचे हो तो उसका तुरन्त चालान कर दिया जा रहा है और तो और जब जनप्रतिनिधि कुछ लोगों को लेकर जनसमस्याओं पर अपनी बात रखता है तो उसको मुक़दमा दर्ज करने की धमकी दी जाती है । वहीं दूसरी ओर प्रदेश सरकार के सर्वोच्च पद पर आसीन माननीय लगातार लॉक डाउन व सामाजिक दूरी के संवैधानिक नियमों का उल्लंघन करते आ रहे हैं, जहां सरकार द्वारा जिम बंद है पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर पचास प्रतिशत सवारी ले जाने का नियम है मन्दिरों में भी जल चढ़ाना,टीका,आचमन व प्रसाद चढ़ाने पर रोक है वहॉं दूसरी ओर माननीय भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ शारीरिक दूरी व मास्क को दरकिनार कर चुनावी आम खाने में मस्त हैं जो कि ग़ैर क़ानूनी है और क़ानून का पालन करवाने वाले मूक दर्शक बन कर खड़े देख रहे हैं यह बड़ा शर्मनाक है ।
जयेन्द्र रमोला ने कहा कि मैंने ज़िलाधिकारी से आग्रह किया कि इस प्रकरण पर क़ानूनी कार्यवाही कर आम जन तक यह संदेश पहुँचाने का काम करें कि क़ानून सबके लिये एक है।


Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /home/kelaitgy/aajkaaditya.in/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 320

Related Articles

Close