उत्तराखंड

राजकीय उद्यानों को हार्टी टूरिज्म की तर्ज पर किया जाएगा विकसित : सुबोध उनियाल

ऋषिकेश, 17 जुलाई। कृषि व रेशम विकास मंत्री सुबोध उनियाल ने प्रदेश के राज्य के उद्यानों को नए सिरे से विकसित करने पर एक बैठक कर चर्चा की जिसमें उन्होंने कहा कि प्रदेश के 93 उद्यानों को तीन श्रेणी में वर्गीकृत किया जाएगा ए श्रेणी के उद्यान खुद चले जाएंगे ताकि यहां से गुणवत्तापूर्ण कोत्पाद किए जा सके। हार्टी टूरिज्म के रूप में विकसित किया जा सके देवासी श्रेणी के तहत चयनित उद्यान में एरोमेटिक व चाय की खेती की संभावनाएं तलाशने की बात कही कहां की इमेज सीएबी एंड यूटीडीबी माता अनुसार सर्वेक्षण करेंगे बी और सी श्रेणी के उद्यानों को 20 और 30 साल के लिए लागू हुआ दीर्घकालिक लीज पर देने की बात भी कहें जिसे विभाग कार्य योजना तैयार करने के निर्देशित किया इसके अलावा रांची के जैविक उत्पाद के विपणन के लिए भी प्रमुख यात्रा मार्ग कट हुआ जिला मुख्यालय पर ऑर्गेनिक उत्तराखंड नाम से 13100 रिटेल आउटलेट स्थापना करने पर भी सहमति बनी इससे किसानों को बेहतर बाजार में सकेगा देश-विदेश से आने वाले यात्रियों और पर्यटक इन्हें खरीद सकेंगे और उनका प्रचार-प्रसार भी होगा यह आउट ले स्थानीय स्तर पर समूह के माध्यम से संचालित किए जाएंगे इनके स्थापना के लिए जिला अधिकारियों से स्थान चयन कराया जाएगा मौके पर विभागीय सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम कृषि निदेशालय के अधिकारी गण मौजूद थे।

Related Articles

Close