UNCATEGORIZED

एम्स ऋषिकेश में हेलीपैड सुविधा उपलब्ध होने से उत्तराखंड में एयर एंबुलेंस सेवा को बढ़ावा : कैप्टन दीप श्रीवास्तव

गंभीर बीमार मरीजों व आपदा, सड़क दुर्घटनाओं में घायलों को समय पर अस्पताल पहुंचाकर मृत्यु दर कम किया जा सकेगा

मुख्यमंत्री के नागरिक उड्डयन सलाहकार कैप्टन दीप श्रीवास्तव ने कहा कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में हेलीपैड सुविधा उपलब्ध होने से उत्तराखंड में एयर एंबुलेंस सेवा को बढ़ावा मिलेगा,जिससे उत्तराखंड के सुदूरवर्ती इलाकों में गंभीर बीमार मरीजों व आपदा, सड़क दुर्घटनाओं में घायलों को समय पर अस्पताल पहुंचाकर मृत्युदर को कम किया जा सकेगा। इस सेवा से आम व्यक्ति को जोड़ने के लिए राज्य सरकार एक टोल फ्री अथवा टोलफ्री नंबर जारी करने पर विचार कर रही है। एम्स ऋषिकेश में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नागरिक उड्डयन सलाहकार कैप्टन दीप श्रीवास्तव ने कहा कि संस्थान में हेलीपैड बनने से सरकार राज्य के दुर्गम क्षेत्रों में रहने वाले गरीब पृष्ठभूमि के गंभीर मरीजों को एयर एंबुलेंस सेवा से जोड़ने के लिए योजना पर कार्य कर रही है। सरकार का प्रयास है कि एयर एंबुलेंस सुविधा का आर्थिक बोझ गरीब व्यक्ति पर न पड़े, इसके लिए सरकार इसे राज्य द्वारा संचालित स्वास्थ्य योजनाओं से जोड़ने पर भी विचार कर रही है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में उत्तराखंड में 12 कंपनियां हेली सेवा प्रदान कर रही हैं। लिहाजा उनसे सरकार की हेली एंबुलेंस सेवा के लिए वार्ता चल रही है। सीएम के उड्डयन सलाहकार कैप्टन श्रीवास्तव ने बताया कि उत्तराखंड में हेली एंबुलेंस सेवा को बढ़ावा देने व प्रत्येक व्यक्ति को इससे जोड़ने के लिए जल्द टोल फ्री नंबर अथवा वाट्सएप नंबर जारी करेगी,जिस पर विचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि एम्स में हेलीपैड निर्माण में राज्य सरकार के सहयोग व सहमति का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड में आपदाओं अथवा सड़क दुर्घटनाओं के समय लोगों को त्वरित उपचार मुहैया कराकर लोगों की जान बचाना है। इस अवसर पर एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने कहा कि संस्थान उत्तराखंड के लोगों को विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने को लेकर कृत संकल्पित है, इसके लिए अस्पताल में अति अत्याधुनिक स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने की दिशा में सततरूप से कार्य किया जा रहा है। निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत जी ने कहा कि आपदा, सड़क दुर्घटनाओं के समय घायलों को तत्काल चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने के लिए एम्स ऋषिकेश पूर्णरूप से उत्तराखंड सरकार के साथ है। इस अवसर पर एम्स के हेली सर्विसेस इंचार्ज डा. मधुर उनियाल आदि मौजूद थे। इंसेट मुख्यमंत्री के नागरिक उड्डयन सलाहकार कैप्टन श्रीवास्तव ने बताया कि दूरस्थ क्षेत्रों के गंभीर रोगियों व घायलों को एयर एंबुलेंस से तत्काल अस्पताल पहुंचाने की उत्तराखंड का यह मॉडल व अस्पताल परिसर में ही हेलीपैड सुविधा उत्तर प्रदेश के महानिदेशक सिविल एविएशन को काफी पसंद आई है व उन्होंने इसकी सराहना की है, साथ ही इसे उत्तर प्रदेश में भी लागू करने पर विचार करने की बात कही है।

Related Articles

Close