धर्म-कर्म

महापौर ने घर में गणपति बप्पा की पूजा अर्चना कर तीर्थ नगरी के समस्त लोगों के लिए सुख और सृमद्धि की मंगलकामना की

घर घर विराजे रिद्वी सिद्वि के दाता, महापौर ने दी पर्व की बधाई

ऋषिकेश, 22 अगस्त। तीर्थ नगरी ऋषिकेश में शनिवार से प्रथम पूज्जनीय भगवान श्रीगणेश की जय-जयकार शुरू हो गई है।महापौर अनिता ममगाई ने नगरवासियों को गणेश चतुर्थी पर्व की बधाई दी है।देशभर के साथ जहां देवभूमि में भी रिद्धी सिद्धी के दाता श्रीगणेश शनिवार को घर-घर विराजे वहीं महापौर अनिता ममगाई ने भी घर में गणपति बप्पा की पूजा अर्चना कर तीर्थ नगरी के समस्त लोगों के लिए सुख और सृमद्धि की मंगलकामना की। कोरोना संकट के चलते गंगा शहर में बप्पा के भक्तों ने इस बार पंडालों के बजाए घरों में विघ्नहर्ता की पूजा अर्चना की।
गणेश उत्सव को लेकर श्रद्धालुओं में हर्ष और उल्लास है। भगवान गणेश के जन्म उत्सव को गणेश चतुर्थी के रूप में जाना जाता है। गणेशजी को बुद्धि, समृद्धि, सौभाग्य के देवता के रूप में पूजा जाता है। यह उत्सव दस दिन बाद अनंत चतुर्थी के दिन समाप्त होता है।गणेश चतुर्थी पर्व की बधाई देते हुए महापौर ने कहा कि पर्व धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन कोरोना संकट है तो श्रद्धालुओं को अपने और दूसरे के स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए ये पर्व मनाना होगा।उन्होंने पर्व पर शहरवासियों के तमाम विघ्न दूर करने और परिवार में सुख सृमद्धि की मंगलवार कामना भी की।

Related Articles

Close