संपादकीय

2022 चुनाव को लेकर भाजपा की चुनावी रणनीति तेज, 28 अक्टूबर से प्रारंभ होंगे मंडलों के प्रशिक्षण शिविर ऋषिकेश विधानसभा के प्रबल दावेदारों को लेकर कार्यकर्ताओं में सुगबुगाहट

ऋषिकेश।
2022 विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। जिसके लिए आगामी 28 अक्टूबर से चुनावी रणनीति को लेकर मंडलों के प्रशिक्षण शिविर प्रारंभ किए जाएंगे। इसके साथ ही ऋषिकेश विधानसभा सीट से टिकट की दावेदारी को लेकर कार्यकर्ताओं में सुगबुगाहट का माहौल देखा जा रहा है।
उत्तराखंड विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं राजनीतिक पार्टियां अपनी तैयारियां और तेज करने लगी हैं। वर्तमान भाजपा सरकार के खिलाफ कांग्रेस पहले से ही मोर्चा खोल कर तैयारियों में जुटी हुई है। इसको देखते हुए भाजपा भी आगामी 28 अक्टूबर से चुनावी रणनीति को लेकर संगठन स्तर पर मंडलों के प्रशिक्षण शिविर प्रारंभ करने जा रही है। जिसकी जानकारी ऋषिकेश मंडल अध्यक्ष दिनेश सती ने दी है।
उत्तराखंड स्थापना से ही चर्चाओं में रही ऋषिकेश विधानसभा सीट में कार्यकर्ताओं के बीच पार्टी के टिकट को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गई है। इस बार भाजपा की आलाकमान ऋषिकेश विधानसभा सीट का टिकट किस प्रबल दावेदार को सौंपेगी, यह कार्यकर्ताओं में चर्चा का विषय बना हुआ है। वर्तमान में सीट से विधायक व विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल के अलावा महापौर अनीता ममगाई के भी चुनावी मैदान में दावेदारी करने की अटकलें लगाई जा रही हैं। इसके अलावा ऋषिकेश विधानसभा सीट से एक और वरिष्ठ कार्यकर्ता का नाम चुनाव में दावेदारी के लिए सामने आ रहा है।
सूत्रों के मुताबिक इस बार के विधानसभा चुनाव में ऋषिकेश विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष कुसुम कंडवाल के भी चुनावी मैदान में दावेदारी किए जाने की अटकलें लगाई जा रही है। गौरतलब है कि कुसुम कंडवाल भाजपा की वरिष्ठ कार्यकर्ता हैं। प्रदेश उपाध्यक्ष कुसुम कंडवाल इससे पहले यम्केश्वर जिला पंचायत सदस्य भी रह चुकी हैं। इसके साथ ही पार्टी उन्हें महिला मोर्चा पौड़ी जिलाध्यक्ष, महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य महिला मोर्चा, चमोली, टिहरी और उत्तरकाशी की चुनाव जिला प्रभारी के साथ ही लगातार तीन बार प्रदेश उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी भी सौंप चुकी है। कुसुम कंडवाल जमीनी कार्यकर्ताओं के बीच हमेशा से विश्वसनीय और ईमानदार कार्यकर्ता के रूप में देखी जाती हैं। वर्तमान में भी कार्यकर्ताओं की पहली पसंद बनी हुई है।
अब देखना यह होगा कि क्या कुसुम कंडवाल 2022 विधानसभा चुनाव में ऋषिकेश विधानसभा सीट से अपनी दावेदारी पेश करेंगी और अगर ऐसा हुआ तो भाजपा आलाकमान किसको ऋषिकेश विधानसभा सीट का टिकट सौंपेगी।

Close