धर्म-कर्म

20 नवंबर को सौरमंडल के सबसे बड़े ग्रह बृहस्पति का 13 महीने के लिए राशि परिवर्तन

ऋषिकेश, 20 नवंबर। स्थानीय से अंतरराष्ट्रीय स्तर तक राजनीतिक एवं सामाजिक उठापटक
भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं की संभावना परंतु अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी सत्ता पक्ष को लाभ मिलेगा
20 नवंबर शुक्रवार को दोपहर 1:22 पर सौरमंडल के सबसे बड़े ग्रह देव गुरु बृहस्पति अपनी मूलत्रिकोण राशि धनु को छोड़कर शनि के स्वामित्व वाली मकर राशि में प्रवेश करेंगे यहां पर वह कभी सीधी और कभी वक्र गति से 13 महीने तक संचरण करेंगे
राजकीय इंटरमीडिएट कॉलेज आईडीपीएल के संस्कृत प्रवक्ता आचार्य डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल ने बताया देव गुरु बृहस्पति ग्रह सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है वह चंद्रमा की कर्क राशि में उच्च और शनि की मकर राशि में सबसे कमजोर स्थिति में होते हैं 20 नवंबर को दोपहर 1:22 पर वे शनि के स्वामित्व वाली मकर राशि में प्रवेश करेंगे जहां पर शनि देव पहले से विराजमान है ज्योतिष शास्त्र में इसे मणिकांचन योग के नाम से जाना जाता है जिसका प्रभाव स्थानीय से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राज सत्ता सहित आम जनमानस पर पड़ेगा भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा के आने की भी संभावना रहेगी इसलिए सावधानी आवश्यक है
उत्तराखंड ज्योतिष रत्न सम्मान से सम्मानित आचार्य चंडी प्रसाद आगे बताते हैं कि 16 नवंबर से ग्रहों के राजा सूर्य अपने मित्र मंगल की राशि वृश्चिक में आ चुके हैं जबकि 17 नवंबर को दैत्य गुरु शुक्र अपनी तुला राशि में जाएंगे इसके बाद 28 नवंबर को बुध ग्रह तुला राशि से वृश्चिक राशि में आकर सूर्य के साथ बुधादित्य योग बनाएंगे जिससे भारत की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी दालो एवं सब्जियों के दामों में कमी आएगी परंतु अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तनाव बढ़ने की भी संभावना रहेगी
ज्योतिष वैज्ञानिक डॉक्टर चंडी प्रसाद बताते हैं कि ग्रहों के इस परिवर्तन और विशेष रूप से बृहस्पति के परिवर्तन का राशियों के अनुसार सभी प्राणियों पर असर पड़ेगा जो निम्न वत रहेगा
मेष आजीविका की समस्या आ सकती है धन मान सम्मान में कमी महसूस होगी वृष इस राशि के जातकों को सभी कार्यों में सफलता और पदोन्नति के योग बनेंगे मिथुन यात्राओं से नुकसान स्वजनों से विरोध की संभावना कर्क संतान सुख में वृद्धि संतान की तरफ से शुभ समाचार की प्राप्ति सिंह शत्रुओं से कष्ट विरोधी सक्रिय रहेंगे कन्या शुभ फलों के वृद्धि शुभ समाचारों की प्राप्ति तुला रिश्तेदारों से तनाव जमीन मकान भूमि भवन से नुकसान वृश्चिक धन मान-सम्मान की प्राप्ति स्थान परिवर्तन की संभावना धनु राजकीय सम्मान प्राप्ति पारिवारिक सुख मकर धन का अपव्यय संबंधों से मनमुटाव मुकदमे बाजी की संभावना कुंभ धन हानि मानसिक चिंताएं कार्यों में गतिरोध मीन इस राशि के जातकों का भाग्योदय होगा पदोन्नति स्थान परिवर्तन संतान सुख की प्राप्ति होगी।

Related Articles

Close