उत्तराखंडनिवेश

भारत विश्व पटल का चमकता सिताराः अमित शाह

पर्यावरण से लेकर आर्थिक मोर्चा हो या शांति स्थापित करने के हों प्रयास

10 वर्षों में भारत की इकोनामी दो ट्रिलियन डॉलर से बढ़कर 4 ट्रिलियन डॉलर हो गई

देहरादून। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि आज का शक्तिशाली भारत विश्व के पटल का चमकता सितारा है, जिसके प्रकाश पुंज से चहुं दिशाएं जगमग हैं। पर्यावरण से लेकर आर्थिक मोर्चा हो या शांति स्थापित करने के प्रयास हों, सभी जगह भारत दुनिया का नेतृत्व करता दिखाई देता है और यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से संभव हो पाया है।
एफआरआई में ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के समापन सत्र को संबोधित करते हुए करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश विकास के नए आयाम स्थापित करता जा रहा है। आज भारत दुनिया में आर्थिक विकास का इंजन बनकर उभरा है। पूरी दुनिया भारत की ओर आशा भरी निगाहों से देख रही है। दिल्ली में हुए जी 20 सम्मेलन की सफलता और दिल्ली डिक्लेरेशन इस ओर बखूबी करता है  कि विश्व के सभी देशों को एकजुट रखने में भारत पूर्ण रूप से सफल रहा है। प्रधानमंत्री मोदी का लक्ष्य है कि भारत 2047 तक एक विकसित देश बने। शाह ने कहा कि पर्यावरण हो या फिर शांति की बात भारत सभी देशों को एक मंच पर लाने में कामयाब हुआ है।
शाह ने कहा कि भारत की विकास दर जिस तेजी से आगे बढ़ रही है, उससे वर्ष 2025 तक भारत पांच ट्रिलियन डॉलर की इकोनामी बन जाएगा। यही नहीं बहुत जल्द ही भारत विश्व की तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक ताकत बनेगा। इसके लिए मोदी सरकार पूरा रोड मैप तैयार कर चुकी है, जिस पर बखूबी अमल किया जा रहा है और उसके सुखद परिणाम सबके सामने है। विगत 10 वर्षों में भारत की इकोनामी दो ट्रिलियन डॉलर से बढ़कर 4 ट्रिलियन डॉलर हो गई है और यह इस ओर इशारा करता है कि हम सही दिशा में सही कदम और गति के साथ अग्रसर है।
उन्होंने कहा कि विगत वर्षों में 13.5 करोड लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकला गया है। उनका जीवन स्तर बेहतर हुआ है और वह देश की उन्नति में अपना योगदान बखूबी दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेई ने उत्तराखंड बनाया और मोदी जी उत्तराखंड को संवार रहे हैं। इसमें प्रदेश सरकार का भी अहम योगदान है। समिट में साढे तीन लाख करोड़ के निवेश प्रस्ताव आना प्रदेश सरकार के अथक परिश्रम और कामयाबी का द्योतक है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड एक पर्वतीय राज्य है और ऐसे में इको फ्रेंडली तरीके से उद्योगों के साथ जुड़ना अभूतपूर्व होगा, जो पूरे विश्व के लिए किसी शुभ संकेत से काम नहीं होगा।
उन्होंने कहा कि मजबूत इरादों से हौसलों को नई उड़ान मिलती है और इससे सुख समृद्धि के नए द्वार खुलते हैं। प्रदेश सरकार स्थानीय उत्पादों को वैश्विक स्तर पर स्थापित करने का सराहनीय प्रयास कर रही है। इससे राज्य व यहां के लोगों का जीवन स्तर पूरी तरह से बदल जाएगा। उत्तराखंड ऐसे काफी उत्पाद पैदा करता है, जो यहां अगर अगर व्यापार का जरिया बने तो तो लोगों का जीवन स्तर और भी बेहतर हो सकता है। ऐसे में धामी सरकार के प्रयास सराहनीय हैं।

Related Articles

Back to top button